अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल ऑफ़ शिमला के सातवें संस्करण का आयोजन शिमला के गेयटी थिएटर में

अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल ऑफ़ शिमला के सातवें संस्करण का आयोजन शिमला के गेयटी  थिएटर में

पुष्प राज ठाकुर ने खा की इस समारोह में मलयालम,तमिल, बंगाली ,मराठी, हिन्दी और अन्य भारतीय भाषाओं में भी फिल्में दिखाई जायेंगी । उन्होंने कहा कि फिल्म समारोह की अंतर्राष्ट्रीय केटेगरी में दुनिया के 16 देशों की 23 फिल्में स्क्रीन की जायेंगी। राष्ट्रीय केटेगरी में विभिन्न भारतीय भाषाओं की 25 फिल्में दिखाई जायेंगी। इसके अलावा हिमाचल के निर्देशकों की 7 फिल्में भी फिल्म फेस्टिवल में शामिल की गई हैं।

 शिमला अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल ऑफ़ शिमला के सातवें संस्करण का आयोजन शिमला के गेयटी  थिएटर में 26 -28 नवम्बर, 2021  को  किया जायेगा । इस वर्ष शिमला के कांडा जेल में भी फिल्म समारोह की फिल्में स्क्रीन की जायेंगी। यह जानकारी अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल ऑफ़ शिमला के फेस्टिवल डायरेक्टर श्री पुष्प राज ठाकुर ने दी। उन्होंने कहा  कि इस समारोह का शुभारम्भ 26  नवम्बर को गेयटी थिएटर में होगा।

उन्होंने कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल ऑफ़ शिमला के सातवें संस्करण में दुनिया के विभिन्न देशों की  58 फिल्मों को शॉर्टलिस्ट किया गया है।  ये फिल्में दुनिया के विभिन्न देशों अमेरिका, बेल्जियम, मोरक्को,साउथ अफ्रीका, सिंघापुर, दक्षिण कोरिया, इटली,ताईवान, स्पेन से प्राप्त हुई हैं। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा प्रदेश कार्यसमिति बैठक-24, 25 एवं 26 नवम्बर, 2021 को शिमला में: जम्वाल

पुष्प राज ठाकुर ने खा की इस समारोह में मलयालम,तमिल, बंगाली ,मराठी, हिन्दी और अन्य भारतीय भाषाओं में भी फिल्में दिखाई जायेंगी । उन्होंने कहा कि फिल्म समारोह की अंतर्राष्ट्रीय केटेगरी में दुनिया के 16 देशों की 23 फिल्में स्क्रीन की जायेंगी।  राष्ट्रीय  केटेगरी में विभिन्न भारतीय भाषाओं की 25 फिल्में दिखाई जायेंगी। इसके अलावा हिमाचल के निर्देशकों की 7 फिल्में भी फिल्म फेस्टिवल में शामिल की गई हैं। उन्होंने कहा कि समारोह में फिल्म निदेशालय से प्राप्त दो राष्ट्रीय पुरस्कृत फिल्म्ज़ और फिल्म डिवीज़न, भारत सरकार से प्राप्त फ़िल्मज़ भी स्क्रीन की जायेंगी। 

इसे भी पढ़ें: मनरेगा के अंतर्गत सामग्री घटक की देनदारियों के लिए 88.77 करोड़ जारीः वीरेंद्र कवंर

फिल्म फेस्टिवल के इस संस्करण में प्रसिद्ध तमिल निदेशक और 'थलाइवा ' फिल्म के निर्देशक  श्री. विजय आनन्द समारोह के विशेष मेहमान होंगे। मशहूर इराकी निर्देशक हस्सन नजमाबादी  की फिल्म 'अपारात' फिल्म समारोह की उद्घाटन फिल्म होगी। यह फिल्म छ: किशोर बच्चों  के  मानसिक भावनाओं के  संघर्ष की कहानी पर आधारित फिल्म है। इस फिल्म को कई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह में पुरस्कृत किया जा चुका  है। राष्ट्रीय केटेगरी में राज प्रितम मोरे की मराठी फिल्म 'खिसा' की स्क्रीनिंग भी की जायेंगी। बच्चों के भावनात्मक पहलू  पर बनी इस फिल्म को भी समारोह में शामिल किया गया है।

इसे भी पढ़ें: भाजपा के केंद्र व प्रदेश में सभी वर्गों के समग्र विकास के लिए काम किया : जम्वाल

गौरतलब है कि पिछले वर्ष यह फिल्म फेस्टिवल कोविड-19 महामारी के कारण ऑनलाइन आयोजित किया गया था जबकि  इससे पहले इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ शिमला के पांच संस्करणों  का आयोजन अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त गेयटी थिएटर शिमला  में किया जा चुका है जिसमें दुनिया भर के फिल्म मेकर्स हिस्सा लेते रहे हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।