एक देश एक चुनाव पर आम आदमी पार्टी ने केंद्र सरकार से मांगा दृष्टिपत्र

aap-seeks-vision-document-from-centre-on-one-nation-one-vision
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुधवार को बुलाई गई सर्वदलीय बैठक से दूर रहे और पार्टी सदस्य राघव चड्ढा को पार्टी का प्रतिनिधित्व करने के लिए भेजा।

नयी दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) ने ‘एक देश, एक चुनाव’ के मुद्दे पर संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी से एक दृष्टिपत्र मांगा है जिससे कि मुद्दे पर एक सुविज्ञ और व्यापक स्तर की चर्चा हो सके। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुधवार को बुलाई गई सर्वदलीय बैठक से दूर रहे और पार्टी सदस्य राघव चड्ढा को पार्टी का प्रतिनिधित्व करने के लिए भेजा।

इसे भी पढ़ें: संविधान संशोधन के बगैर एक देश, एक चुनाव संभव नहीं: पूर्व निर्वाचन आयुक्त

मोदी ने ‘एक देश, एक चुनाव’ के विचार, वर्ष 2022 में स्वतंत्रता के 75 साल होने के जश्न और इस साल महात्मा गांधी की 150वीं जयंती सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करने के लिए उन सभी दलों के अध्यक्षों की बैठक बुलाई थी जिनका लोकसभा या राज्यसभा में एक भी सदस्य है। चड्ढा ने जोशी को भेजे गए एक पत्र में कहा कि स्पष्ट दृष्टि या आधार की अनुपस्थिति में इस तरह के प्रस्ताव के गुण-दोषों पर टिप्पणी करना किसी भी राजनीतिक दल के लिए व्यर्थ होगा। 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़