लंदन के एक सेमिनार में कश्मीर पर बोलने वाले थे अब्दुल्ला, रहस्यमय तरीके से जूम कॉल से हुए गायब, आयोजक ने कहा- हमें नहीं पता क्या हुआ

लंदन के एक सेमिनार में कश्मीर पर बोलने वाले थे अब्दुल्ला, रहस्यमय तरीके से जूम कॉल से हुए गायब, आयोजक ने कहा- हमें नहीं पता क्या हुआ

हिंदू फॉर लेबर के अध्यक्ष डॉ नीरज पाटिल ने बाद में इसकी जानकारी देते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री के साथ जुड़ने में हमें इंटरनेट की समस्या आ रही है। वह पहले यहां थे और इंटरनेट की समस्या है। बाद में उन्होंने फिर से दोहराते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि हमें अब्दुल्ला के साथ जुड़ने में कनेक्शन की समस्या हो रही है।

जम्मू और कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ फारूक अब्दुल्ला मुख्य वक्ता के रूप में वीडियो लिंक के माध्यम से हिल्टन होटल, ब्राइटन में श्रम कार्यक्रम को संबोधित करने वाले थे। अंग्रेजी अखबार टाइम्स इंडिया ने पत्र के आधार पर सम्मेलन को संबोधित करने की बात की पुष्टि की। अब्दुल्ला स्थानीय समयानुसार सुबह करीब 9.10 बजे अपने श्रीनगर स्थित घर से जूम पर दिखाई दिए, जब उन्होंने अपने ऑडियो और वीडियो की जांच करने के लिए जूम तकनीशियन के साथ एक संक्षिप्त बातचीत की। उन्हें पता चला की कार्यक्रम स्थानीय समयानुसार सुबह साढ़े नौ बजे तक शुरू नहीं होना है तो अब्दुल्ला ने एक छोटा साल ब्रेक लेकर फिर समय पर वापस आने की बात कही। लेकिन अब्दुल्ला ने अचानक ही बिल्कुल रहस्यमय तरीके जूम कॉल छोड़ दिया और फिर वापस जुड़े भी नहीं। 

इसे भी पढ़ें: उरी से पकड़े गए 18-साल के आतंकी को भारतीय सेना ने पिलाई चाय, यूजर ने पाकिस्तान को ट्रोल करते हुए पूछा- How's the tea?

हिंदू फॉर लेबर के अध्यक्ष डॉ नीरज पाटिल ने बाद में इसकी जानकारी देते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री के साथ जुड़ने में हमें इंटरनेट की समस्या आ रही है। वह पहले यहां थे और इंटरनेट की समस्या है। बाद में उन्होंने फिर से दोहराते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि हमें अब्दुल्ला के साथ जुड़ने में कनेक्शन की समस्या हो रही है। बाद में अब्दुल्ला के संबोधन के बिना ही कार्यक्रम समाप्त हो गया। बताया जा रहा है कि वह कश्मीर पर बोलने वाले थे। पाटिल ने कार्यक्रम के दौरान कई बार अब्दुल्ला के निजी मोबाइल पर कॉल करने की कोशिश की लेकिन उनका फोन स्विच ऑफ था। व्हाट्सएप संदेश भी नहीं गए। वह लाइन पर थे, हमें नहीं पता कि डॉ अब्दुल्ला के साथ क्या हुआ है। पाटिल ने कहा कि मुझे उनका प्राइवेट नंबर मिल गया है और लेकिन उनका फोन स्विच ऑफ है। जूम होस्ट ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया कि अब्दुल्ला ने जूम से लॉग ऑफ किया और हम उनसे संपर्क नहीं कर सके। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।