जेल से बाहर आने पर बोले आकाश, बल्ले से मारने का अफसोस नहीं

akash-said-after-bail-i-do-not-regret-hiting-bat
अभिनय आकाश । Jun 30, 2019 5:47PM
आकाश भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं। शहर के गंजी कम्पाउंड क्षेत्र में एक जर्जर भवन ढहाने की मुहिम के विरोध के दौरान बुधवार को बड़े विवाद के बाद भाजपा विधायक ने नगर निगम के एक अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से पीट दिया था।

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में नगर निगम अधिकारी को बल्ले से पिटाई करने के आरोप में जेल भेजे गए विधायक आकाश विजयवर्गीय जमानत पर रिहा हो गए है। आकाश के जेल से बाहर आते ही समर्थकों ने फूल-माला पहनाकर उनका जोरदार स्वागत किया। जेल से बाहर आने पर आकाश विजयवर्गीय ने कहा कि जेल में अच्छा समय बीता। उन्होंने कहा कि मैंने जो किया, उसका मुझको कोई दुख नहीं है। हालांकि अब गांधी के रास्ते पर चलना है, लेकिन मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वो दोबारा बल्लेबाजी करने का अवसर न दें।

इसे भी पढ़ें: भाजपा के बल्लामार विधायक आकाश विजयवर्गीय को मिली जमानत

बता दें कि आकाश भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं। शहर के गंजी कम्पाउंड क्षेत्र में एक जर्जर भवन ढहाने की मुहिम के विरोध के दौरान बुधवार को बड़े विवाद के बाद भाजपा विधायक ने नगर निगम के एक अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से पीट दिया था। कैमरे में कैद पिटाई कांड में गिरफ्तारी के बाद विजयवर्गीय को बुधवार को एक स्थानीय अदालत के सामने पेश किया गया था। अदालत ने दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद भाजपा विधायक की जमानत याचिका खारिज कर दी थी। इसके साथ ही, उन्हें 11 जुलाई तक न्यायिक हिरासत के तहत जिला जेल भेज दिया गया था। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़