अमित शाह ने कहा- पीएम मोदी के छह साल के शासन ने जम्मू कश्मीर में शांतिपूर्ण माहौल दिया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 26, 2020   19:19
अमित शाह ने कहा- पीएम मोदी के छह साल के शासन ने जम्मू कश्मीर में शांतिपूर्ण माहौल दिया

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा कि 2014 से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के छह साल के शासन को 1990 के बाद से जम्मू कश्मीर के इतिहास में सबसे शांतिपूर्ण अवधि के रूप में याद किया जाएगा।

जम्मू। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा कि 2014 से लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के छह साल के शासन को 1990 के बाद से जम्मू कश्मीर के इतिहास में सबसे शांतिपूर्ण अवधि के रूप में याद किया जाएगा। शाह ने शांतिपूर्ण और पारदर्शी जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनावों के आयोजन के लिए उप राज्यपाल मनोज सिन्हा और उनके प्रशासन की तारीफ की तथा जम्मू कश्मीर की जनता को आश्वासन दिया कि मोदी द्वारा किये गये सभी वादों को समयबद्ध तरीके से पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री को जम्मू कश्मीर की जनता से विशेष लगाव और स्नेह है।

इसे भी पढ़ें: हनुमान बेनीवाल ने कृषि कानूनों के विरोध में NDA से तोड़ा नाता, बोले- मैं फेविकोल से नहीं चिपका हूं

हम जब भी उनसे बात करते हैं, उनका ध्यान तीन चीजों पर केंद्रित होता है- आम आदमी के उत्थान के लिए उस तक लाभ पहुंचाने के लिहाज से जम्मू कश्मीर का त्वरित विकास, जमीनी लोकतंत्र को मजबूत करना और शांतिपूर्ण सुरक्षा परिदृश्य।’’ शाह ने कहा, ‘‘पिछले साल पांच अगस्त के बाद जम्मू कश्मीर में हर क्षेत्र में बदलाव दिखाई दे रहा है, चाहे अधूरी परियोजनाओं की बात हो, केंद्र प्रायोजित योजनाओं का क्रियान्वयन हो, बुनियादी संरचना विकास हो या सुरक्षा परिदृश्य हो।’’ केंद्र ने पिछले साल पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त कर दिया था और उसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया था।

इसे भी पढ़ें: ABVP के 66वें राष्ट्रीय सम्मेलन में बोले गडकरी, संघ के नेताओं के संस्कारों के कारण मिली है सफलता

मोदी के साथ जम्मू कश्मीर के सभी नागरिकों के लिए आयुष्मान भारत के लाभों को पहुंचाने के उद्देश्य से योजना की वीडियो कॉन्फ्रेंस से शुरूआत के मौके पर गुवाहाटी में मौजूद शाह ने कहा कि जहां तक जम्मू कश्मीर में सुरक्षा परिदृश्य की बात है, कश्मीर की जनता 2014 में मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से खुशी से जी रही है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं पूरे विश्वास के साथ कह सकता हूं कि पिछले छह साल में मोदी सरकार के शासन में कश्मीर ने 1990 के बाद से सबसे शांतिपूर्ण अवधि को देखा और इसे जम्मू कश्मीर के इतिहास में याद रखा जाएगा।’’ शाह ने कहा कि विकास, पर्यटन और युवाओं के रोजगार के लिए शांति जरूरी है। उन्होंने कहा, ‘‘शांति के बिना विकास असंभव है। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए शांति अनिवार्य है।’’

गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने लोकतंत्र को जमीनी स्तर पर पहुंचाने के लिए अपने वादे को पूरा किया है। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर प्रशासन ने तेज गति से अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन किया है जिसके परिणाम स्वरूप सरकार की योजनाएं जनता तक पहुंच रही हैं। शाह ने कहा, ‘‘जम्मू कश्मीर के लोग योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं। 2014 में मोदी के नेतृत्व में शुरू हुईं बुनियादी परियोजनाओं पर अधूरे काम ने पांच अगस्त के बाद से गति पकड़ ली और हमें उम्मीद है कि अगले एक साल में सभी परियोजनाएं पूरी हो जाएंगी।’’ हाल ही में संपन्न डीडीसी चुनावों का जिक्र करते हुए शाह ने उपराज्यपाल और प्रशासन की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘चुनावों में एक बूंद भी रक्त नहीं बहा, जिसमें भारी संख्या में मतदान हुआ।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।