अमित शाह ने लोकसभा में रखा प्रस्ताव, J&K में 6 महीने के लिए राष्ट्रपति शासन बढ़ाया जाए

amit-shah-proposed-a-proposal-in-lok-sabha-implemented-president-rule-for-6-months-in-jammu-and-kashmir
अभिनय आकाश । Jun 28, 2019 12:37PM
लोकसभा में अमित शाह ने जम्मू कश्मीर में आरक्षण को लेकर संशोधन प्रस्ताव रखा। शाह ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास रहने वालों को आरक्षण को आरक्षण मिले। साढ़े तीन लाख लोगों को इसका फायदा होगा। जम्मू और कठूआ के लोगों को फायदा मिलेगा।

नई दिल्ली। लोकसभा सत्र के 10वें दिन गृह मंत्री अमित शाह ने सदन में जम्मू कश्मीर पर बोलते हुए राष्ट्रपति शासन बढ़ाने की अवधि का प्रस्ताव रखा। शाह ने कहा कि जम्मू कश्मीर में 6 महीने के लिए राष्ट्रपति शासन की अवधि बढ़ाई जाए। जम्मू कश्मीर में चुनाव की तारीख अभी तय नहीं हुए हैं। शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में मौजूदा राष्ट्रपति शासन की अवधि 2 जुलाई को पूरी होने वाली है। रमजान और अमरनाथ यात्रा के देखते हुए राज्य में चुनाव इस वर्ष के अंत तक कराने की तैयारी चल रही है। 

इसे भी पढ़ें: लोकसभा में आज जम्मू कश्मीर आरक्षण बिल पर चर्चा

जिसके बाद लोकसभा में अमित शाह ने जम्मू कश्मीर में आरक्षण को लेकर संशोधन प्रस्ताव रखा। शाह ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास रहने वालों को आरक्षण को आरक्षण मिले। साढ़े तीन लाख लोगों को इसका फायदा होगा। जम्मू औऱ कठूआ के लोगों को फायदा मिलेगा। शाह ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बसे गांवों के छात्रों को भी आरक्षण देने का प्रस्ताव है। शेलिंग और गोलीबारी के दौरान छात्रों को कई-कई दिनों तक बंकरों में रहना पड़ता है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़