कृष्ण जन्मभूमि मामले में एक और याचिका दाखिल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 27, 2021   04:55
कृष्ण जन्मभूमि मामले में एक और याचिका दाखिल
प्रतिरूप फोटो

दिगम्बर नागा बाबा उर्फ परमानन्द महाराज के शिष्य गोपाल गिरि द्वारा दायर इस याचिका में भी यही दलील दी गई है कि चूंकि 1967 में श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान एवं शाही ईदगाह प्रबंधन समिति के बीच किया गया करार पूरी तरह से गैरकानूनी है, इसलिए उसे निरस्त कर उक्त भूमि उसके वास्तविक मालिक श्रीकृष्ण जन्मभूमि न्यास को सौंप दी जाए।

मथुरा, 26 सितंबर उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले की अदालत में श्रीकृष्ण जन्मभूमि परिसर में स्थित शाही ईदगाह को हटाने की मांग को लेकर शुक्रवार को एक और याचिका दाखिल की गई। इस प्रकार इस मामले को लेकर मथुरा की अदालत में दाखिल यह सातवीं याचिका है।

सिविल जज (प्रवर वर्ग) के न्यायालय में दिगम्बर नागा बाबा उर्फ परमानन्द महाराज के शिष्य गोपाल गिरि द्वारा दायर इस याचिका में भी यही दलील दी गई है कि चूंकि 1967 में श्रीकृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान एवं शाही ईदगाह प्रबंधन समिति के बीच किया गया करार पूरी तरह से गैरकानूनी है, इसलिए उसे निरस्त कर उक्त भूमि उसके वास्तविक मालिक श्रीकृष्ण जन्मभूमि न्यास को सौंप दी जाए।

इसे भी पढ़ें: केरल में मोपला विद्रोह हिन्दुओं का योजनाबद्ध नरसंहार था : आदित्यनाथ

जिला शासकीय अधिवक्ता शिवराम सिंह तरकर ने बताया, इस मामले की सुनवाई के लिए अदालत ने 25 अक्टूबर की तारीख तय की है।

इसे भी पढ़ें: परिजन ने गिरफ्तार पीएफआई कार्यकर्ता को इलाज के लिए एम्स स्थानांतरित करने का अनुरोध किया





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।