दावत-ए- इफ़्तार के दौर से सियासी दूरी पाटने की कोशिश

By अभिनय आकाश | Publish Date: Jun 4 2019 11:11AM
दावत-ए- इफ़्तार के दौर से सियासी दूरी पाटने की कोशिश
Image Source: Google

केंद्रीय मंत्री पासवान ने ट्वीट करते हुए लिखा कि लोजपा द्वारा आयोजित दावत-ए- इफ़्तार में बिहार के राज्यपाल आदरणीय श्री लालजी टन्डन जी, विधानसभा स्पीकर श्री विजय कुमार चौधरी जी, मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी, उप मुख्यमंत्री श्री सुशील कुमार मोदी जी एवं नेतागण शामिल हुए।

पटना। सियासत के अनूठे रंग दिखाने के लिए मशहूर बिहार जहां कब दोस्त दुश्मन बन जाते हैं और कब दुश्मन दोस्त इसका पता नहीं चलता है। लोकसभा चुनाव के बाद मंत्री-मंत्री के खेल से राजनीतिक विश्लेषक यह अनुमान लगाने में लगे थे कि भाजपा और जदयू के बीच आल इज नॉट वेल है। लेकिन अचानक ही कई तस्वीरें आ गई जिसमें बिहार राजग के त्रिमूर्ती सुशील मोदी, नीतीश कुमार और राम विलास पासवान गलबहियां करते दिखें, अवसर था दावत-ए-इफ्तार का। लोक जनशक्ति पार्टी द्वारा आयोजित इफ्तार में नीतीश कुमार और सुशील मोदी दोनों मौजूद रहे। बता दें कि इससे पहले जब जदयू ने इफ्तार का आयोजन किया था तो उसमें सुशील मोदी शामिल नहीं हुए थे वहीं भाजपा के इफ्तार से भी नीतीश ने परस्पर दूरी बनाए रखी थी।

इसे भी पढ़ें: मोदी मंत्रीमंडल से जुड़ने का टाइम खत्म, भविष्य में भी जदयू सरकार में शामिल नहीं होगी: केसी त्यागी

लेकिन राजनीति के मौसम को भलि-भांति भांपने के लिए मशहूर राम विलास पासवान ने दो सहयोगियों को एक साथ लाकर भाजपा-जदयू के बीच की तल्खी को पाटने की कोशिश की है। इस संबंध में केंद्रीय मंत्री पासवान ने ट्वीट करते हुए लिखा कि लोजपा द्वारा आयोजित दावत-ए- इफ़्तार में बिहार के राज्यपाल आदरणीय श्री लालजी टन्डन जी, विधानसभा स्पीकर श्री विजय कुमार चौधरी जी, मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी, उप मुख्यमंत्री श्री सुशील कुमार मोदी जी एवं नेतागण शामिल हुए।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video