PM मोदी के दौरे से पहले जर्मनी ने भारत को लेकर कह दी ऐसी बात, चीन और पाकिस्तान टेंशन में आ जाएंगे

PM मोदी के दौरे से पहले जर्मनी ने भारत को लेकर कह दी ऐसी बात, चीन और पाकिस्तान टेंशन में आ जाएंगे
Creative Common

जर्मनी के मंत्री टोबियास लिंडनर एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने भारत आए। इस कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि भारत पूरी दुनिया की व्यवस्था में एक अहम किरदार निभाता है। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि पूरी दुनिया को परेशानी में डालने वाला कोई भी मुद्दा भारत के बिना नहीं निपटाया जा सकता है।

रूस और यूक्रेन के बीच भीषण जंग चल रही है। इस जंग ने पूरी दुनिया के लिए बड़ी परेशानियां पैदा कर रखी हैं। कच्चे तेल की कीमतें आसमान छू रही है। इसी बीच रूस के एक तेल डिपो पर भी यूक्रेन ने हमला किया। जुसकी वजह से जर्मनी में तेल की कमी को लेकर हलचल तेज हो गई बै। वहीं रूस ने साफ कर दिया है कि इस हमले से लेत की सप्लाई में कोई कमी नहीं आएगी। लेकिन अब जर्मनी कुछ ज्यादा चिंता में नजर आ रहा है। ऐसे मुश्किल वक्त में जर्मनी को कोई मुल्क याद आया है तो वो भारत है। 

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना क्या है और क्या है इसका उद्देश्य

दरअसल, जर्मनी के मंत्री टोबियास लिंडनर एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने भारत आए। इस कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि भारत पूरी दुनिया की व्यवस्था में एक अहम किरदार निभाता है। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि पूरी दुनिया को परेशानी में डालने वाला कोई भी मुद्दा भारत के बिना नहीं निपटाया जा सकता है। लिंडनर का ये भी कहना है कि भारत और जर्मनी मिलकर शिक्षा, सुरक्षा और जलवायु परिवर्तन के क्षेत्र में आपसी योजनाओं को और बढ़ावा देंगे। भारत के बिना किसी भी चुनौती का समाधान नहीं निकाला जा सकता। 

इसे भी पढ़ें: सेमीकॉन इंडिया सम्मेलन में बोले PM मोदी, हमारी कल्पना से कहीं अधिक भूमिका निभा रहा सेमी-कंडक्टर

गौरतलब है कि जर्मनी लगातार भारत के साथ और अच्छे संबंध बनाने की कोशिश कर रहा है। हालांकि लिंडनर ने ये बातें ऐसे दौर में कही है जब पीएम मोदी जल्द ही जर्मनी का दौरा करने वाले हैं। पीएम मोदी की विदेश यात्रा शुरू होने वाली है।  साल 2022 के इस अपने पहले विदेश दौरे में पीएम मोदी जर्मनी, डेनमार्क और फ्रांस यात्रा पर जाएंगे। पीएम की इस यूरोप यात्रा के एजेंडा में द्विपक्षीय संबंधों से लेकर क्षेत्रीय समीकरणों और व्यापार-निवेश तक कई अहम मुद्दे हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...