MP में होने वाले उपचुनावों से पहले बीजेपी ने फूंका चुनावी बिगुल, मंत्रियों को दी क्षेत्रों की ज़िम्मेदारियां

MP में होने वाले उपचुनावों से पहले बीजेपी ने फूंका चुनावी बिगुल, मंत्रियों को दी क्षेत्रों की ज़िम्मेदारियां

प्रदेश में 3 विधानसभा और 1 लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव को लेकर बीजेपी और कांग्रेस ने तैयारियां शुरु कर दी हैं।बीजेपी की रविवार को दो बैठकें हुई। पहली बैठक सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश के नेतृत्व में हुई। जिसमें तुलसी सिलावट, कमल पटेल, विजय शाह, मोहन यादव, इंदर सिंह परमार शामिल हुए। वहीं दूसरी बैठक प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव के नेतृत्व में हुई।

भोपाल। मध्य प्रदेश में 3 विधानसभा और 1 लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव को लेकर बीजेपी और कांग्रेस ने तैयारियां शुरु कर दी हैं। दमोह में हुए उपचुनाव में बीजेपी को मिली हार को वे दोहराना नहीं चाहती है। इसी को देखते हुए रविवार को बीजेपी संगठन की बड़ी बैठक संपन्न हुई जिसमें उपचुनाव को लेकर रणनीति बनाई गई।

इसे भी पढ़ें:मध्य प्रदेश में शुरू होगा अन्न उस्तव कार्यक्रम, प्रधानमंत्री मोदी करेंगे इसका उद्घाटन 

आपको बता दें कि बीजेपी की रविवार को दो बैठकें हुई। पहली बैठक सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश के नेतृत्व में हुई। जिसमें तुलसी सिलावट, कमल पटेल, विजय शाह, मोहन यादव, इंदर सिंह परमार शामिल हुए। वहीं दूसरी बैठक प्रदेश प्रभारी मुरलीधर राव के नेतृत्व में हुई। जिसमें प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, संगठन महामंत्री सुहास भगत, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा समित अन्य विधायक और पूर्व विधायक भी शामिल रहें।

वहीं बताया जा रहा है कि इस बैठक में खंडवा उपचुनाव के उम्मीदवारों के चयन को लेकर भी चर्चा हुई। इसके अलावा मंत्रियों को उपचुनाव की सीटों का प्रभार सौंपने पर मंथन हुआ। जिसके बाद बीजेपी ने खंडवा लोकसभा सीट के लिए पांच मंत्रियों को जिम्मेदारी सौंपी है। जिसमें मंत्री कमल पटेल, उषा ठाकुर, विजय शाह, तुलसीराम सिलावट, मोहन यादव को जिम्मेदारी दी गई है।

इसे भी पढ़ें:MP में 26 जुलाई से शुरू होगी विद्यालयों में पढ़ाई , सरकार ने जारी किया आदेश 

दरअसल खंडवा सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के निधन की वजह से यह लोकसभा सीट रिक्त हुई है। जबकि पृथ्वीपुर से कांग्रेस विधायक बृजेंद्र प्रताप सिंह, जोबट से कांग्रेस विधायक कलावती भूरिया और रैगांव से बीजेपी विधायक जुगल किशोर बागरी का कोरोना के कारण निधन हो गया था। जिसके बाद से ये तीनों सीटें भी खाली हुई है।

खण्डवा में विधानसभाओं के हिसाब से-

  1. नेपानगर विधानसभा- मंत्री तुलसी सिलवाट और बहादुर सिंह सौधिंया
  2. बुरहानुपर विधानसभा- मंत्री इंदर सिंह परमार और गोपीकृष्ण नेमा
  3. मांधाता विधानसभा- मंत्री विजय शाह और  कविता पाटीदार
  4. खण्डवा विधानसभा- मंत्री कमल पटेल , जसवंत सिंह हाडा और बंशीलाल गुर्जर
  5. पंधाना विधानसभा- मंत्री मोहन यादव , अनिल जैन और शंकर लालवानी
  6. बागली विधानसभा- मंत्री उषा ठाकुर और चिंतामणि मालवीय
  7. भीकनगांव विधानसभा- मंत्री जगदीश देवड़ा और जीतू जिराती
  8. बड़वाह विधानसभा- मंत्री जगदीश देवड़ा और सुधीर गुप्ता     

खंडवा में जिलों के हिसाब से-

  1. बुरहानपुर जिला- प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक शर्मा
  2. खण्डवा जिला- प्रदेश महामंत्री कविता पाटीदार
  3. देवास जिला- प्रदेश उपाध्यक्ष चिंतामणि मालवीय
  4. खरगोन जिला- प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती

3 विधानसभाओं के लिए- 

पृथ्वीपुर विधानसभा के लिए - मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया, भारत सिंह कुशवाह ,मुकेश सिंह चतुर्वेदी, ललिता यादव और प्रभुदयाल कुशवाहा।

रैगांव विधानसभा के लिए - मंत्री रामखिलावन पटेल, बिसाहूलाल सिंह ,बृजेन्द्र प्रताप सिंह, गणेश सिंह, राजेन्द्र शुक्ला, शरदेंदु तिवारी।

जोबट विधानसभा के लिए - मंत्री विश्वास सारंग , प्रेम सिंह पटेल ,गजेन्द्र पटेल, रमेश मेंदोला, कलसिंह भांवर, जयदीप पटेल।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।