भूपेश बघेल ने पीएम से कोविड रोधी टीके की एक करोड़ खुराक उपलब्ध कराने का आग्रह किया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 29, 2021   13:58
भूपेश बघेल ने पीएम से कोविड रोधी टीके की एक करोड़ खुराक उपलब्ध कराने का आग्रह किया

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर राज्य को जुलाई माह में कोविड रोधी टीके के एक करोड़ खुराक उपलब्ध कराने का आग्रह किया है।

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर राज्य को जुलाई माह में कोविड रोधी टीके के एक करोड़ खुराक उपलब्ध कराने का आग्रह किया है। राज्य के जनसंपर्क विभाग के अधिकारियों ने मंगलवार को यहां बताया कि मुख्यमंत्री बघेल ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर छत्तीसगढ़ राज्य को जुलाई माह में कोरोना वायरस रोधी टीके की कम से कम एक करोड़ खुराक उपलब्ध कराए जाने का आग्रह किया है। बघेल ने प्रधानमंत्री को यह भी बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य में वर्तमान में कोरोना रोधी टीके की मात्र 9,98,810 खुराक शेष है जो केवल तीन दिन के लिए हैं।

इसे भी पढ़ें: रक्षा मंत्री के साथ आज शाम बैठक करेंगे पीएम मोदी, इन मुद्दों पर होगी बात

उन्होंने कहा कि राज्य द्वारा बार-बार मांग किए जाने पर भी छत्तीसगढ़ को पर्याप्त संख्या में टीके उपलब्ध नहीं कराए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से छत्तीसगढ को टीके उपलब्ध कराए जाने के संबंध में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को तत्काल निर्देश देने का भी अनुरोध किया है। अधिकारियों ने बताया कि बघेल ने प्रधानमंत्री को भेजे पत्र में कहा है कि छत्तीसगढ़ राज्य में कोविड-19 के विरूद्ध टीकाकरण का कार्य तीव्र गति से चल रहा है। राज्य में अब तक 100 प्रतिशत फ्रंटलाइन वर्कर्स को पहली खुराक तथा 91 प्रतिशत हेल्थ केयर वर्कर को पहली खुराक लगाई गई है। इनमें से 71 प्रतिशत फ्रंटलाइन वर्कर्स को और 70 प्रतिशत हेल्थ केयर वर्कर को दूसरी खुराक लगायी जा चुकी है। मुख्यमंत्री ने पत्र में कहा है कि राज्य में इसी प्रकार 45 वर्ष से अधिक के आयु वर्ग में भी अब तक 80 प्रतिशत नागरिकों को टीके की पहली खुराक लगायी जा चुकी है। 18-44 वर्ष के आयु वर्ग का टीकाकरण एक मई से ही प्रारम्भ हुआ है फिर भी दो माह से भी कम समय में राज्य में 18-44 वर्ष आयु वर्ग के 16 प्रतिशत नागरिकों को भी कोरोना रोधी टीके की पहली खुराक लगायी गई है। वर्तमान में छत्तीसगढ़ में प्रतिदिन तीन लाख से अधिक लोगों को टीके लगाए जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: स्वास्थ्य मंत्रालय ने गर्भवती महिलाओं के कोरोना रोधी टीकाकरण संबंधी दिशा-निर्देश जारी

अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री ने पत्र में यह भी लिखा है कि छत्तीसगढ़ राज्य में वर्तमान में कोरोना टीके की मात्र 9,98,810 खुराक शेष है जो केवल तीन दिन के लिए ही पर्याप्त है। राज्य सरकार ने छत्तीसगढ के लिएलक्ष्य निर्धारित किया है कि यदि भारत सरकार से पर्याप्त संख्या में कोरोना टीके प्राप्त हो जाएं तब एक माह में ही सभी पात्र हितग्राहियों को टीके की पहली खुराक लगा दी जाएगी। इसके लिए छत्तीसगढ़ राज्य में व्यापक रूप से जन अभियान भी चलाया जा रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।