बिप्लव देब ने अनुच्छेद 370 को लेकर दिया बड़ा बयान

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 7 2019 7:10PM
बिप्लव देब ने अनुच्छेद 370 को लेकर दिया बड़ा बयान
Image Source: Google

अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने से इतिहास में एक नए अध्याय का आरंभ हुआ है।’’भाजपा की प्रदेश ईकाई के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री देब ने संसद में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन विधेयक को पारित कराने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी।

अगरतला। त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लव देब ने कहा है कि जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 की वजह से देश में अतिवाद और आतंकवाद को बढ़ावा मिला। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि इसके प्रावधानों का निरसन आजादी के बाद किसी सरकार द्वारा लिया गया ‘‘सर्वाधिक हिम्मत भरा’’ फैसला है। देब ने पार्टी मुख्यालय के सामने मंगलवार देर रात कहा कि भाजपा सरकार के इस ‘ऐतिहासिक’ कदम से श्यामा प्रसाद मुखर्जी का स्वप्न साकार हुआ। मुखर्जी भारतीय जनता पार्टी के पूववर्ती दल भारतीय जनसंघ के संस्थापक थे। देब ने कहा, ‘‘अगर कश्मीर को विशेष दर्जा मिल सकता है तो दूसरे राज्यों को क्यों नहीं?

इसे भी पढ़ें: राष्ट्रपति कोविंद ने अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने की घोषणा की

अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने से इतिहास में एक नए अध्याय का आरंभ हुआ है।’’भाजपा की प्रदेश ईकाई के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री देब ने संसद में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन विधेयक को पारित कराने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि ‘‘एक ही देश में रह रहे लोगों के लिए अलग अलग नियम नहीं हो सकते।’’ भाजपा नेतृत्व वाली सरकार ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने और राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बांटने का प्रस्ताव पेश किया था। यह उसी दिन राज्यसभा में पारित भी हो गया था।

इसे भी पढ़ें: राज्यपाल मलिक ने की J&k के कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा



लोकसभा ने अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करने के प्रस्ताव संबंधी संकल्प को भारी बहुमत से मंगलवार को स्वीकृति दी। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निरस्त करने की घोषणा की।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story