चुनाव आते ही राम नाम का कटोरा लेकर निकल पड़ती है भाजपा: राज बब्बर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 22, 2018   15:23
चुनाव आते ही राम नाम का कटोरा लेकर निकल पड़ती है भाजपा: राज बब्बर

अभिनय से राजनीति में आए बब्बर ने यहां संवाददाताओं से कहा, भाजपा ने भगवान राम को कभी आस्था की नजर से नहीं देखा। जब भी कहीं चुनाव होते हैं, भाजपा राम नाम का कटोरा लेकर घूमना शुरू कर देती है।

इंदौर। अयोध्या में भगवान राम के मंदिर निर्माण के मुद्दे को लेकर भाजपा की नीयत पर सवाल उठाते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता राज बब्बर ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया कि चुनाव आते ही भाजपा इसके नाम पर मतदाताओं को ठगने की कोशिश शुरू कर देती है। अभिनय से राजनीति में आए बब्बर ने यहां संवाददाताओं से कहा, "भाजपा ने भगवान राम को कभी आस्था की नजर से नहीं देखा। जब भी कहीं चुनाव होते हैं, भाजपा राम नाम का कटोरा लेकर घूमना शुरू कर देती है।"

उत्तरप्रदेश कांग्रेस प्रमुख ने कहा, "राम मंदिर मुद्दे पर भाजपा की ठगी की कोशिशों को मतदाताओं ने पहचान लिया है। भाजपा कहती है-मंदिर हम बनायेंगे, लेकिन तारीख नहीं बतायेंगे। लोग समझ चुके हैं कि उनके (भाजपा नेताओं के) मुंह में राम और बगल में छुरी है।" बब्बर ने एक सवाल पर कहा, "कांग्रेस ने राम मंदिर निर्माण का न तो कभी विरोध किया है, न ही आगे करेगी।"

उन्होंने कहा, "सब लोग चाहते हैं कि भगवान राम का मंदिर बने। मुझे तो लगता है कि अब मुसलमान भी चाह रहे हैं कि यह मंदिर बने। लेकिन चूंकि संबंधित मामला अभी उच्चतम न्यायालय में लम्बित है। इसलिये शीर्ष अदालत ही फैसला करेगी कि यह मंदिर कहां बनेगा।"।

मध्यप्रदेश में 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर सत्तारूढ़ भाजपा की आयोजित हालिया सभाओं में उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तीखे हमले किये थे। इसपर पलटवार करते हुए बब्बर ने कहा, "जो व्यक्ति मंदिर छोड़कर राजनीति में चला आया है, उसके बारे में भला क्या कहा जाये। आदित्यनाथ से पूछा जाना चाहिये कि क्या वह अपने गेरुआ वस्त्रों की गरिमा को निभा रहे हैं?"

अक्सर बागी तेवर दिखाने वाले भाजपा नेता शत्रुघ्न सिन्हा की मौजूदा सियासी स्थिति को लेकर किये गये सवाल पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा, "भाजपा ने सिन्हा के सम्मान को ठेस पहुंचायी है। भाजपा के अंदर मौजूद छद्म नेता उन्हें बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं।"





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।