Prabhasakshi Newsroom। किरीट सोमैया पर हुए हमले को लेकर भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने गृह सचिव से की मुलाकात

Prabhasakshi Newsroom। किरीट सोमैया पर हुए हमले को लेकर भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने गृह सचिव से की मुलाकात
प्रतिरूप फोटो
ANI Image

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र की जनता को लगता है कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू होना चाहिए। हालांकि फडणवीस ने यह स्पष्ट किया कि भाजपा राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग नहीं करेगी, लेकिन केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने कहा कि राज्य सरकार कानून-व्यवस्था बनाए रखने में असफल रही है।

महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा को लेकर जमकर बवाल हो रहा है। इसी बीच भाजपा प्रतिनिधिमंडल ने पार्टी नेता किरीट सोमैया पर हुए हमले के मुद्दे पर केंद्रीय गृह सचिव से मुलाकात की और उन्हें ज्ञापन सौंपा। गृह सचिव से मुलाकात से पहले भाजपा नेता किरीट सोमैया ने बताया कि महाराष्ट्र में टेरर पैदा करना, पुलिस का माफिया उपयोग करने का काम उद्धव जी कर रहे हैं जिसमें मुंबई पुलिस कमिश्नर संजय पांडे भी शामिल हैं और उन्होंने मेरे ऊपर फर्जी एफआईआर दर्ज की। आज हम केंद्रीय गृह सचिव से स्पेशल टीम भेजने की बात करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: हनुमान चालीसा के मुद्दे पर बोले मल्लिकार्जुन खड़गे, महाराष्ट्र में परेशानी पैदा कर सरकार गिराने की हो रही कोशिश ! 

अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के आवास 'मातोश्री' के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने की घोषणा के बाद शुरू हुआ विवाद काफी ज्यादा गर्मा गया है। नवनीत राणा और उनके पति की गिरफ्तारी हो चुकी है और रविवार को अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

क्या राष्ट्रपति शासन होगा लागू ?

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्ट्र की जनता को लगता है कि राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू होना चाहिए। हालांकि फडणवीस ने यह भी स्पष्ट किया कि भाजपा राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग नहीं करेगी, लेकिन केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने कहा कि राज्य सरकार कानून-व्यवस्था बनाए रखने में असफल रही है और बदले की राजनीति कर रही है इसलिए राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए।

महाराष्ट्र की लड़ाई दिल्ली आई

लाउडस्पीकर और अजान से गर्मायी सियासत हनुमान चालीसा पर आकर ठहर गई है। इसी बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेता फहमीदा हसन ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि अब वह दिल्ली में प्रधानमंत्री आवास के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे और इसके लिए उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखकर अनुमति मांगी है। 

इसे भी पढ़ें: Prabhasakshi Newsroom। हनुमान चालीस को लेकर जमकर हुआ बवाल और फिर थाने में गुजरी राणा दंपत्ति रात 

अलग-अलग जेल में हैं राणा दंपत्ति

सांसद नवनीत राणा को मुंबई की भायखला महिला जेल में शिफ्ट किया है जबकि उनके विधायक पति रवि राणा को नवी मुंबई के तलोजा जेल में रखा गया है। राणा दंपत्ति को शनिवार को गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने की बात कही थी, जिससे शिवसेना के कार्यकर्ता बेहद आक्रोशित हो गए थे और उन्होंने राणा के आवास के आगे विरोध प्रदर्शन किया था।

मुंबई पुलिस ने राणा दंपत्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है और बाद में उसमें राजद्रोह का आरोप भी जोड़ दिया। मुंबई की एक अदालत ने रविवार को राणा दंपति को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। इसके बाद रविवार देर रात अमरावती से सांसद नवनीत राणा को भायखला महिला कारावास ले जाया गया था।

एक अधिकारी ने बताया कि उनके पति को पहले ऑर्थर रोड जेल ले जाया गया था लेकिन वहां जगह नहीं होने के कारण उन्हें नवी मुंबई की तलोजा जेल में शिफ्ट किया गया। राणा दंपत्ति के खिलाफ आईपीसी की धारा 153 ए, धारा 34 और मुंबई पुलिस अधिनियम की धारा-135 का मामला दर्ज किया गया। बाद में इसमें 124-ए की धारा भी जोड़ी गई है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।