भाजपा का सदस्यता अभियान शुरू, दिल्ली में 14 लाख नए सदस्य बनाने का लक्ष्य

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 30 2019 11:21AM
भाजपा का सदस्यता अभियान शुरू, दिल्ली में 14 लाख नए सदस्य बनाने का लक्ष्य
Image Source: Google

दिल्ली में सदस्यता अभियान के सह-प्रभारी हर्ष मल्होत्रा ने बताया कि दिल्ली में 13,816 मतदान केन्द्र हैं और करीब 58,000 बूथस्तर के कार्यकर्ता हैं। उन्होंने कहा, अगर सदस्यता अभियान के दौरान प्रत्येक पंच परमेश्वर 50 नए सदस्यों को भी जोड़ता है तो भी हम आसानी से इस लक्ष्य को प्राप्त कर लेंगे।

नयी दिल्ली। देशभर में छह जुलाई से भाजपा का एक महीने लंबा सदस्यता अभियान शुरू हो रहा है और इस दौरान दिल्ली में पार्टी के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं को कम से कम 14 लाख नए सदस्यों को जोड़ने का लक्ष्य दिया गया है। पार्टी ने प्रत्येक पोलिंग बूथ पर ‘पंच परमेश्वर’ के रूप में पांच कार्यकर्ताओं को तैनात किया है जो पार्टी और उस क्षेत्र में रहने वाले मतदाताओं को आपस में जोड़ने का काम करेंगे। दिल्ली प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में सदस्यता अभियान अन्य राज्यों के मुकाबले अलग होगा जहां 20 प्रतिशत नए सदस्यों को पार्टी के साथ जोड़ने का लक्ष्य है। तिवारी ने कहा कि सदस्यता अभियान सामान्य प्रकृति का होगा जिसमें अन्य राज्यों के 20 प्रतिशत नए सदस्यों से ज्यादा करीब 14 लाख नए सदस्य जोड़ने का लक्ष्य रखा गया हैं।

इसे भी पढ़ें: जेल से बाहर आने पर बोले आकाश, बल्ले से मारने का अफसोस नहीं

फिलहाल दिल्ली में भाजपा के करीब 27 लाख सदस्य हैं। दिल्ली में सदस्यता अभियान के सह-प्रभारी हर्ष मल्होत्रा ने बताया कि दिल्ली में 13,816 मतदान केन्द्र हैं और करीब 58,000 बूथस्तर के कार्यकर्ता हैं। उन्होंने कहा, अगर सदस्यता अभियान के दौरान प्रत्येक पंच परमेश्वर 50 नए सदस्यों को भी जोड़ता है तो भी हम आसानी से इस लक्ष्य को प्राप्त कर लेंगे। भाजपा ने 2017 के निकाय चुनावों से पहले राजधानी दिल्ली के सभी 13,816 बूथों के लिए पंच परमेश्वरों की नियुक्ति की थी। भाजपा करीब दो दशक से सत्ता से बाहर है, ऐसे में मनोज तिवारी का मानना है कि इस सदस्यता अभियान से विधानसभा चुनावों में भाजपा को लाभ होगा। लोकसभा चुनावों में दिल्ली की सभी सात सीटें भाजपा के खाते में आयी हैं।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video