हैदराबाद में डॉक्टर से रेप करने के बाद उसे जिंदा जलाया, हत्या को लेकर प्रदर्शन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 30, 2019   17:32
हैदराबाद में डॉक्टर से रेप करने के बाद उसे जिंदा जलाया, हत्या को लेकर प्रदर्शन

एक अन्य व्यक्ति ने कहा, ‘‘यदि आप वैसा नहीं कर सकते तो उन्हें हमें सौंप दें।’’ पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को भरोसा दिलाया कि वे आरोपियों की 100 फीसदी दोषसिद्धि सुनिश्चित करेंगे और लोगों से सहयोग करने का अनुरोध किया।

हैदराबाद। हैदराबाद में शनिवार को बड़ी संख्या में लोगों ने उस थाने के बाहर प्रदर्शन किया जहां महिला पशु चिकित्सक से बलात्कार एवं हत्या के आरोपियों को बंद किया गया है। प्रदर्शनकारियों ने आरोपियों को ‘कड़ी’ सजा की मांग की। बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी शादनगर पुलिस थाने के बाहर एकत्रित हुए और आरोपियों के खिलाफ नारेबाजी की। इनमें से कुछ लोगों ने मांग की कि आरोपियों को मौत की सजा दी जाए।

इसे भी पढ़ें: भाजपा का आरोप, महाराष्ट्र मंत्रालय का शपथ ग्रहण गैरकानूनी है

एक व्यक्ति ने कहा, ‘‘यदि उन्हें अदालत ले जाया जाता है तो यह पर्याप्त नहीं होगा। उनसे वैसा ही व्यवहार होना चाहिए जैसा उन्होंने पीड़िता के साथ किया।’’ एक अन्य व्यक्ति ने कहा, ‘‘यदि आप वैसा नहीं कर सकते तो उन्हें हमें सौंप दें।’’ पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को भरोसा दिलाया कि वे आरोपियों की 100 फीसदी दोषसिद्धि सुनिश्चित करेंगे और लोगों से सहयोग करने का अनुरोध किया।

इसे भी पढ़ें: शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस ने अनैतिक तरीके से सरकार बनाई: राम नाईक

इस बीच प्रक्रिया के तहत आरोपियों की चिकित्सकीय जांच करने वाले चिकित्सकों ने संवाददाताओं से कहा कि आरोपियों की स्थिति सामान्य है। स्थानीय बार एसोसिएशन ने आरोपियों को कोई भी विधिक सहायता उपलब्ध नहीं करने का फैसला किया है। सरकारी अस्पताल में कार्यरत 25 वर्षीय पशु चिकित्सक से चार युवकों ने बृहस्पतिवार रात में शहर के बाहरी इलाके में बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी थी। ये चारों युवक लॉरी मजदूर हैं। इस जघन्य अपराध के सिलसिले में चार युवकों को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया। इस घटना को लेकर पूरे देश में आक्रोश उत्पन्न हो गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।