पांचव दीपोत्सव मनाए जाने के लिए राम की पैड़ी पर हुआ भूमि पूजन

celebrate the fifth Deepotsav, Bhoomi Pujan on Ram Padi
सत्य प्रकाश । Oct 15, 2021 12:27PM
अयोध्या में 5वें दीपोत्सव को भव्यता के साथ मनाया जाने के लिए शुरू हुई तैयारी सरयू घाट से लेकर मठ मंदिरों तक रंग रोगन का कार्य तेज, राम की पैड़ी पर 12 हजार वालंटियर जलाएंगे 9 लाख दीये

अयोध्या। अयोध्या में होने वाले एक कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ दक्षिण कोरिया के राजदूत भी शामिल होंगे। जिसको लेकर सरयू घाट प्रमुख मठ मंदिर राम कथा पार्क को सजाया और सामान्य का कार्य शुरू कर दिया गया है। वहीं राम की पैड़ी पर दीपोत्सव के आयोजन के लिए अवध विश्वविद्यालय को जिम्मेदारी दी गई है। जिसके तहत विश्वविद्यालय के कुलपति व अयोध्या के संत राम की पैड़ी पर भूमि पूजन कर इस दीपों की तैयारी शुरू कर दी है।

इसे भी पढ़ें: अंगद की भूमिका में मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को कहा रावण 

राम की पैड़ी पर दीपोत्सव के आयोजन को लेकर अवध विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ रवि शंकर ने बताया कि दीपोत्सव के आयोजन को लेकर अवध विश्वविद्यालय को जिम्मेदारी मिली है। इसके लिए 12000 वालंटियर को तैयार किया जा रहा है। राम की पैड़ी पर 32 घाटों पर दीप को प्रज्वलित किया जाएगा जिसके लिए 1 नवंबर से दीपों को बिछाए जाने की तैयारी शुरू कर दी जाएगी। तो वही कहा कि हम सभी अयोध्यावासी बहुत बहुत सौभाग्यशाली है और आज से ही दिव्य दीपोत्सव की तैयारी का शुभारंभ कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें: अयोध्या को दहलाने की कोशिश ताबड़तोड़ फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत 3 घायल 

वहीं, इस दीपोत्सव को लेकर किए गए भूमि पूजन में शामिल हुए हनुमानगढ़ी के पुजारी राजू दास ने बताया कि दीपोत्सव को लेकर हम लोगों में अपार उत्साह है आज कुलपति के नेतृत्व में भूमि पूजन कर हवन करने के बाद हम लोग बहुत ही उत्साहित हुए हैं। पांचवा भव्य दिव्य दीपोत्सव है जिसके माध्यम से देश और दुनिया में अयोध्या के दीपावली की जो पहचान है। जो सनातन संस्कृति पहचान है। जब मंदिर निर्माण का आदेश नहीं आया था उस समय लोगों के मन में तमाम भाव आए थे दीपोत्सव मनाया जा रहा है लेकिन मंदिर का निर्माण नहीं हो पा रहा है। आज मंदिर निर्माण शुरू होने के बाद यह भव्य और दिव्य दीपोत्सव का आयोजन हो रहा है। जिससे हम लोगों में अपार उत्साह है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़