• अयोध्या को दहलाने की कोशिश ताबड़तोड़ फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत 3 घायल

आपसी रंजीत में तीन वाहनों से भरकर आए हमलावरों ने की फायरिंग में 32 वर्षीय मंजीत यादव की हुई मौत तो वहीं इस घटना में तीन अन्य लोग घायल हैं जिनका इलाज किया जा रहा है घटना के दौरान हमलावरों में एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।

अयोध्या। आपसी रंजिश में वाहनों से भरकर आए बस बदमाशों के द्वारा किए गए ताबड़तोड़ फायरिंग में एक युवक की मौत हो गई वहीं तीन अन्य लोग घायल हैं जिनका इलाज चल रहा है। दरसल अयोध्या में चल रही दुर्गा पूजा महोत्सव के दौरान देर शाम कोतवाली नगर के कोरखाना नील गोदाम के पास बड़ी संख्या में वाहन सवार हथियारबंद हमलावर पहुंचे थे। घटना को अंजाम देने के बाद सभी फरार हो गए इस दौरान स्थानीय लोगों ने एक हमलावर को दबोच लिया और पुलिस के हवाले कर दिया है पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

इसे भी पढ़ें: मॉडल युग में भी बढ़ रहा है रामलीला का महत्व : मालिनी अवस्थी

अयोध्या कोतवाली नगर देवकाली क्षेत्र स्थित कोरखाना नील गोदाम के पास हथियार बन्द बदमाश तीन से चार वाहनों में भरकर आए थे जहां एक ही परिवार पर फायरिंग की। जिसमें 32 वर्षीय युवक मंजीत यादव की मौत हो गई है परिवार की दो लड़कियों को गोली का छर्रा लगा है प्रारंभिक इलाज के बाद उन्हें लखनऊ रेफर किया गया है। वह इस घटना को लेकर मृतक के भाई मिंटू यादव ने जानकारी दिया कि वे सभी हमलावर जनौरा के रहने वाले हैं जोकि पास में स्थित छोटू यादव नाम के युवक से रंजीत ही जिन पर हमला करने के लिए एक स्कार्पियो व दो डिजायर गाड़ी से पहुंचे थे लेकिन इस बीच हमारे भाई आ गया और उन्हें गोली मार दिया गया।

इसे भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री शोभा कारन्दलाजे का बयान, राम-लक्ष्मण की तरह काम कर रहे मोदी-योगी

घटना की जानकारी के बाद मौके पर पहुंचे एसएसपी शैलेश पांडे का कहना है की एक संदिग्ध युवक को पुलिस ने हिरासत में लिया है। पुलिस की 4 टीमों को बनाया गया है अपराधियों को पकड़ने के लिए। परिजन अभी रंजिश के बारे में बता नहीं पा रहे है।लेकिन घटना जल्द ही खोल दिया जाएगा और जो बदमाश हैं उनको गिरफ्तार किया जाएगा । लेकिन सबसे बड़ी बात यह है क्या मामला दुर्गा पूजा महोत्सव से जुड़ा नहीं है आपसी रंजिश के मामले में ही इस प्रकार की घटना को अंजाम दिया गया है जिसकी जांच की जा रही है।