मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रात को नगर निगम के कार्यालय में छापा मारा

Manohar Lal
मुख्यमंत्री ने कंट्रोल रूम में उपस्थित कर्मचारी से पूछा कि इस समय ड्यूटी पर कितने कर्मचारी होने चाहिए और कितनी सफ़ाई मशीन लगी हुई हैं, उनकी मॉनिटरिंग कैसे की जा रही है। नगर निगम के कर्मचारी ने बताया कि गुरुग्राम शहर में साफ़ सफ़ाई के लिए 13 गाड़ियां चल रही हैं, रात 10 बजे से सफ़ाई का कार्य शुरू होता है।

चंडीगढ़  मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने शनिवार की रात को अचानक गुरुग्राम के सेक्टर 39 स्थित नगर निगम के कार्यालय में छापा मारा। उन्होंने नगर निगम कार्यालय के कंट्रोल रूम में जाकर रात में शहर में साफ़ सफ़ाई के लिए लगायी गई गाड़ियों तथा कर्मचारियों के बारे में पूछताछ की और ड्यूटी रोस्टर भी देखा।

 

मुख्यमंत्री ने कंट्रोल रूम में उपस्थित कर्मचारी से पूछा कि इस समय ड्यूटी पर  कितने कर्मचारी होने चाहिए और कितनी सफ़ाई मशीन लगी हुई हैं, उनकी मॉनिटरिंग कैसे की जा रही है। 

नगर निगम के कर्मचारी ने बताया कि गुरुग्राम शहर में साफ़ सफ़ाई के लिए 13 गाड़ियां चल रही हैं, रात 10 बजे से  सफ़ाई का कार्य शुरू होता है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री प्रगतिशील किसान सम्मान’ पुरस्कार के लिए ऑनलाइन आवेदन

मुख्यमंत्री ने वहीं से फ़ोन पर नगर निगम गुरुग्राम के आयुक्त से भी बात की और साफ़ सफ़ाई व ड्यूटी रोस्टर के बारे में पूछताछ की। नगर निगम गुरुग्राम सेक्टर 39 में छापा मारने के बाद मुख्यमंत्री श्री मनोहरलाल गुरुग्राम के सेक्टर 44 स्थित जीएमडीए कार्यालय जा पहुँचे, जहाँ पर इंटेग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल  सेंटर बना  हुआ है । उस सेंटर से गुरुग्राम की विभिन्न सड़कों पर लगे सीसीटीवी कैमरे जुड़े हुए हैं और उन कैमरों से सड़कों की रात में मशीनों से हो रही साफ़ सफ़ाई को देखा जा सकता है ।

इसे भी पढ़ें: आजादी की पहली लड़ाई का शहीद स्मारक जल्द बनकर होगा तैयार - अनिल विज

स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज के निर्देशानुसार स्वास्थ्य विभाग और खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग की संयुक्त टीम ने सोनीपत के गांव बडमलिक में छापा मारकर अवैध रूप से बेची जा रही एमटीपी किट बरामद करने में सफलता हासिल की है। इस छापामारी के बाद एक महिला को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

इसे भी पढ़ें: हरियाणा पुलिस की शानदार कार्रवाई, लापता मोबाइल बरामद कर लोगों को लौटाए

हरियाणा राज्य सतर्कता ब्यूरो द्वारा जिला उद्यान अधिकारी को सब्सिडी के लिए किए गए आवेदन को आवश्यक कार्रवाई करने हेतू आगे बढाने की एवज में 30000 रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है। आरोपी की पहचान जिला उद्यान अधिकारी, पानीपत के पद पर तैनात महावीर शर्मा के रूप में हुई।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़