कांग्रेस विधायक ने की वीर सावरकर की तारीफ, 3 साल से बंद सावरकर सरोवर का खुलवाया ताला

कांग्रेस विधायक ने की वीर सावरकर की तारीफ, 3 साल से बंद सावरकर सरोवर का खुलवाया ताला

तीन साल से बंद सावरकर सरोवर का ताला खुलवाने के बाद कांग्रेस विधायक ने कहा कि हमारे महापुरुषों जिन्होंने देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी उनको कैद रखना अच्छी बात नहीं है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में ग्वालियर पूर्व विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक सतीश सिकरवार ने पार्टी लाइन से हटकर एक बयान दिया हैं। उन्होंने वीर सावरकर की तारीफ की है। इसके साथ ही तीन साल से बंद सावरकर सरोवर का ताला खुलवाया है। 

इसे भी पढ़ें:'टंट्या मामा' की ताबीज बीमार लोगों को करती है स्वस्थ : मंत्री ऊषा ठाकुर 

दरअसल हिंदू महासभा के पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत ताला खोला गया है। हिंदू महासभा के आग्रह पर कांग्रेस विधायक ने गुरुवार को ताला खुलवाया। वहीं मामले में कलेक्टर ने कहा कि नारियल फोड़ उद्घाटन करने वालों पर FIR दर्ज होगी। 

बताया जा रहा है कि तीन साल से बंद सावरकर सरोवर का ताला खुलवाने के बाद कांग्रेस विधायक ने कहा कि हमारे महापुरुषों जिन्होंने देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी उनको कैद रखना अच्छी बात नहीं है। हिंदुत्व की दुहाई देने वाली प्रदेश सरकार का यह कृत्य निंदनीय है। सावरकर जी की प्रतिमा को कैद करने के हम सब खिलाफ हैं।

इसे भी पढ़ें:MP में रहेंगी 2 दिन की बैंक कर्मचारियों की हड़ताल, सरकार को दी चेतावनी 

वहीं कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने कहा कि सतीश सिकरवार ने जो बयान दिया है वो पूरी तरह से गलत है। वीर सावरकर महापुरुष नहीं मुखबिर थे। वीर सावरकर ने हमेशा महात्मा गांधी का अपमान किया था। सतीश सिकरवार बीजेपी से आए हैं और शायद वहां की संस्कृति भूले नहीं है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।