• राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की लड़ाई राजनैतिक प्रतिद्वंद्वियों से नहीं शातिर अपराधियों से है: दीपक शर्मा

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को खत्म करने के उद्देश्य से मीडिया की जासूसी की जा रही है। जनप्रिय नेताओं के ऊपर ईडी और सीबीआई का दुरुपयोग करके झूठे मामले बनाए जा रहे हैं। यही नहीं न्यायालयों तक को नहीं बख्शा जा रहा है। यह स्थिति देश के लिए न केवल दुर्भाग्यपूर्ण है बल्कि खतरनाक भी है।

धर्मशाला। देश की राजनीति का दुर्भाग्य है कि सत्ता शातिर अपराधियों के चंगुल में फंसी है। सत्ता में बने रहने के लिए जिस तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं और अपने राजनीतिक विरोधियों को खत्म करने के लिए शातिर तरीके अपनाए जा रहे हैं,यह सिद्धांतहीन राजनीति का वर्तमान चेहरा है जिसकी जितनी निंदा की जाए उतनी कम है। यह विचार प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता दीपक शर्मा ने आज मीडिया के साथ  बातचीत में व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी का सामना आज उन सिद्धांतहीन, शातिर लोगों से है जिन्होंने सत्ता का अपहरण कर लिया है। सत्ता में बने रहने के लिए ईवीएम हैक की जा रही हैं। जनभावनाओं को भड़का कर वोट हासिल करने के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। अपने प्रतिद्वंद्वियों को मिटाने के लिए उनकी जासूसी की जा रही है। उनके मोबाइल फोन हैक करके व्यक्तिगत आज़ादी का अपहरण किया जा रहा है। 

इसे भी पढ़ें: उपचुनावों के मद्देनजर हिमाचल भाजपा ने शुरू की चुनाव की तैयारियां, सियासी माहौल गर्माया

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को खत्म करने के उद्देश्य से मीडिया की जासूसी की जा रही है। जनप्रिय नेताओं के ऊपर ईडी और सीबीआई का दुरुपयोग करके झूठे मामले बनाए जा रहे हैं। यही नहीं न्यायालयों तक को नहीं बख्शा जा रहा है। यह स्थिति देश के लिए न केवल दुर्भाग्यपूर्ण है बल्कि खतरनाक भी है। राजनीति की वर्तमान स्थिति को देखते हुए कोई भी ईमानदार, निस्वार्थ समाजसेवी राजनीति में कदम रखने से डरने लगा है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि आज देश में राहुल गांधी एकमात्र नेता हैं जो निडर हो कर विकास की नीतियों पर अपना एजेंडा आगे बढ़ा रहे हैं।दूसरी ओर वर्तमान सत्ताधारी लोग हिन्दू-मुसलमान, क्षेत्रवाद, छद्म राष्ट्रवाद आदि उन्माद पैदा करने वाले विषयों पर विबाद पैदा कर वोट हासिल करने की राजनीति करने और उतारू हैं। दीपक शर्मा ने कहा कि आज राहुल गांधी ने देश के युवाओं,रचनात्मक-सकारात्मक सोच रखने वाले युवाओं को निडरता के साथ सक्रीय भूमिका निभाने का जो आह्वान किया है, वह बहुत सार्थक है।

इसे भी पढ़ें: नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से विदेश नीतियों में आया व्यापक बदलाव: भाजपा सांसद

कांग्रेस नेता ने कहा कि अगर साहसी,ईमानदार,सिद्धांतवादी, राजनीतिक शुचिता के समर्थक,अच्छे विचारों वाले लोग राजनीति में सक्रिय भूमिका नहीं निभाएंगे और आगे नहीं आएंगे तो देश में अराजकता पैदा होगी। देश गर्त में चला जाएगा। अतः जो आह्वान राहुल गांधी ने किया है उस पर देश की जनता को गहनता के साथ सोचना होगा और आगे बढ़ना होगा। तभी अराजक,शातिर अपराधियों के चंगुल से सत्ता को छुड़ाया जा सकता है। दीपक शर्मा ने कहा कि देश को आज संकल्पित व्यक्तित्वों की आवश्यकता है तभी राजनीति में उच्च मापदंडों, मूल्यों,सिद्धांतों को पुनर्स्थापित किया जा सकता है।