इंदौर में कब्रिस्तान में फातिहा पढ़ने गए युवक की गिरफ्तारी पर विवाद, पुलिस पर पत्थरबाजी

इंदौर में कब्रिस्तान में फातिहा पढ़ने गए युवक की गिरफ्तारी पर विवाद, पुलिस पर पत्थरबाजी

इंदौर जूनी क्षेत्र सीएसपी दिशेष अग्रवाल के अनुसार घटना प्रकाश का बगीचा इलाके की है। जहाँ 15 मई को इसी क्षेत्र में रहने वाले मोहम्मद यूनुस उर्फ यूनुस कबाड़ी लॉकडाउन तोड़कर कब्रिस्तान में फातिहा पढ़ने चला गया था। लेकिन जब पुलिसकर्मियों को इसकी जानकारी लगी तो उन्होंने युनूस के खिलाफ लॉकडाउन उल्लघंन करने का केस दर्ज किया था।

इंदौर। मध्य प्रदेश के कोरोना हॉट स्पॉट बने इंदौर शहर में एक बार फिर पुलिस पर पत्थरबाजी की घटना सामने आई है। इस बार लॉक डाउन का उलंघन करने वाले एक युवक की गिरफ्तारी को लेकर लोगों ने पुलिस पर पत्थरबाजी कर दी। दरआसल पुलिस मंगलवार को नियमों का उल्लंघन कर कब्रिस्तान में फातिहा पढ़ने गए एक युवक को इलाके में होने की सूचना के बाद गिरफ्तार करने गई थी। लेकिन इलाके के लोगों ने युवक के समर्थन में पत्थरबाजी कर दी। आरोपी युवक को छुड़ाने के लिए महिलाएं, बच्चे और युवा एकजुट होकर प्रदर्शन करने लगे। जिसके बाद भीड़ ने रावजी बाजार इलाके में पुलिस पर पथराव भी किया। जब पुलिसकर्मियों ने हथियार निकाले तो उपद्रवी गलियों में छुप गए। हालंकि बाद में पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस से बीजेपी में आए प्रेमचंद गुड्डू ने सिंधिया और तुलसी सिलावट पर साधा निशाना, फिर से कांग्रेस में वापसी की तैयारी

यही नहीं पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन करने महिलाएं भी बड़ी संख्या में सड़क पर उतर आईं। इंदौर जूनी क्षेत्र सीएसपी दिशेष अग्रवाल के अनुसार घटना प्रकाश का बगीचा इलाके की है। जहाँ 15 मई को इसी क्षेत्र में रहने वाले मोहम्मद यूनुस उर्फ यूनुस कबाड़ी लॉकडाउन तोड़कर कब्रिस्तान में फातिहा पढ़ने चला गया था। लेकिन जब पुलिसकर्मियों को इसकी जानकारी लगी तो उन्होंने युनूस के खिलाफ लॉकडाउन उल्लघंन करने का केस दर्ज किया था। जिसके बाद से आरोपी युवक फरार हो गया था। लेकिन मंगलवार को युनूस के इलाके में होने की सूचना पर थाने के कुछ जवान उसे गिरफ्तार करने पहुंचे तो आरोपी के पक्ष के लोग विरोध करने के लिए सड़कों पर उतर आए।

इसे भी पढ़ें: ग्वालियर संभाग में उपचुनाव की आहट के साथ विकास कार्य शुरू, ग्वालियर-चंबल संभाग में होना है 16 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव

इस दौरान पुलिस पर ज्यादती करने का आरोप लगाते हुए लोगों ने पुलिस-प्रशासन हाय-हाय के नारे लगाए। पुलिस ने सभी को लॉकडाउन का हवाला देकर घरों में रहने की अपील की तो वह और आक्रोशित हो गए। जिसके बाद  पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हल्का बल प्रयोग भी करना पड़ा। पुलिस ने इस घटना में 6  लोग को गिरफ्तार किया है तथा सीसीटीवी फुटेज और वीडियो के आधार पर अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।