इंदौर में निगम कर्मी ने फांसी लगाकर दी जान, पानी की टंकी के नीचे मिला शव

इंदौर में निगम कर्मी ने फांसी लगाकर दी जान, पानी की टंकी के नीचे मिला शव

पुलिस का कहना है कि सुनील के मोबाइल कॉल की जांच की जाएगी। फिलहाल जिस तरह से उसकी महिला मित्र ने आकर देर रात परिजनों को खबर दी उससे यही आशंका जताई जा रही है कि सुनील का महिला मित्र से विवाद हुआ होगा, जिसके बाद उसने यह जानलेवा कदम उठाया है।

इंदौर। मध्य प्रदेश देर रात नगर निगम के एक कर्मचारी ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। पानी की टंकी के नीचे सीढ़ियों पर ही उसका शव फंदे पर लटका हुआ मिला। उसकी प्रेमिका ने उसके घर पर आकर उसके फोन ना उठाने की बात बताई थी, जिसके बाद परिवार वालों ने उसे तलाशा तो शव फंदे पर लटका हुआ मिला। 

 

इसे भी पढ़ें: चरित्र शंका में पत्नी की चाकू मारकर हत्या, खुद भी किया आत्महत्या का प्रयास

मृतक का नाम सुनील रेवलनाथ निवासी बापू गांधी नगर है। भाई अमोल के अनुसार वह नगर निगम के पीएचई विभाग में पदस्थ था। रात के समय टंकियों में पानी भरने का उसका काम था। वह गुलाब बाग में पदस्थ था। रात करीब 03 बजे सुनील की महिला मित्र उसके घर पहुंची और बताया कि सुनील फोन नहीं उठा रहा है, जिसके बाद अमूल और परिवार के अन्य लोग उसे तलाशने पहुंचे।

 

इसे भी पढ़ें: ट्रैक्टर की टक्कर से गिरी दीवार, मलबे में दबने से तीन बच्चों की मौत

सुनील की जहां पोस्टिंग है परिवार के लोग वहीं गए तो उसकी मोटर साइकिल थोड़ी दूरी पर मिल गई। टंकी के नीचे बने कमरे के साइड में सीढ़ियों  पर वह फंदे पर लटका हुआ मिला। पुलिस का कहना है कि सुनील के मोबाइल कॉल की जांच की जाएगी। फिलहाल जिस तरह से उसकी महिला मित्र ने आकर देर रात परिजनों को खबर दी उससे यही आशंका जताई जा रही है कि सुनील का महिला मित्र से विवाद हुआ होगा, जिसके बाद उसने यह जानलेवा कदम उठाया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।