दिल्ली : अक्षरधाम मंदिर के पास बदमाशों और पुलिस के बीच गोलीबारी

दिल्ली : अक्षरधाम मंदिर के पास बदमाशों और पुलिस के बीच गोलीबारी

पुलिस को जानकारी मिली की ये गैंग आज अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन के पास से सवारी बिठाकर उनसे लूटपाट करने की फिराक में है, जिसके बाद पुलिस ने पूरे एरिया को सतर्क किया और अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन के पास ट्रैप लगा दिया

नयी दिल्ली। दिल्ली के भीड़-भाड़ और अति संवेदनशील स्थान अक्षरधाम मंदिर के पास बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़ से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। बदमाशों और पुलिस के बीच कई राउंड फायरिंग हुई। दरअसल, कई दिनों से इलाके में लोगों को सवारी के नाम पर बिठा कर उनसे लूटपाट और हत्या की वारदातें बढ़ गई थी। कई दिनों से पुलिस इनकी तलाश में थी।

इसे भी पढ़ें: 30 साल से चल रही पुरानी रंजिश में बढ़ा विवाद, तीन लोगों को उतारा मौत के घाट

पुलिस को जानकारी मिली की ये गैंग आज अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन के पास से सवारी बिठाकर उनसे लूटपाट करने की फिराक में है, जिसके बाद पुलिस ने पूरे एरिया को सतर्क किया और अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन के पास ट्रैप लगा दिया। जानकारी के मुताबिक बदमाशों का ये गैंग अपनी सियाज गाड़ी में आया और आवाज लगाकर सवारी बैठा रहा था तभी पुलिस ने बदमाशों को धरदबोचने की कोशिश की।

इसे भी पढ़ें: आटा चक्की की दुकान पर चैन की नींद सो रहे बुजुर्ग का बदमाशों ने गला काटा

बदमाशों और पुलिस के बीच गोलीबारी हुई लेकिन इस मुठभेड़ के दौरान बदमाश भीड़ का फायदा उठाते हुए भागने में कामयाब हो गये। बदमाशों का ये गैंग दिल्ली के गीता कलोनी की साइड भागा। फिलहाल पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी है। पुलिस के मुताबिक ये गैंग इस तरीके से पिछले कुछ दिनों में काफी लूट की वारदात को अंजाम दे चुका है।

दिल्ली (पूर्व) के डीसीपी जे सिंह ने कहा कि कार के मालिकों ने हमारे अधिकारी पर गोलीबारी की थी जब पुलिस ने उन्हें बाहर आने के लिए कहा था। जवाबी कार्रवाई में, हमारे अधिकारी ने उन पर गोलीबारी की। तुरंत, उन्होंने भाग लिया। हमारी टीम ने गीता कॉलोनी फ्लाईओवर तक उनका पीछा किया। सीसीटीवी फुटेज का विश्लेषण किया जा रहा है। कार की अभी तक कोई जानकारी नहीं मिली है। उन्होंने आगे बताया कि यह गिरोह लूट की गतिविधियों में शामिल था। वे मेट्रो स्टेशन से कम दरों पर लोगों को कैब सेवाएं प्रदान करते थे और फिर उन्हें लूट लेते थे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...