महाराष्ट्र में लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई गई, बेशर्मी की सारी हदें पार कर दी गई: कांग्रेस

महाराष्ट्र में लोकतंत्र की धज्जियां उड़ाई गई, बेशर्मी की सारी हदें पार कर दी गई: कांग्रेस

इस बीच उन्होंने कहा कि आज सुबह जो कांड हुआ उसकी आलोचना करने के लिए हमारे पास कोई शब्द नहीं है कांग्रेस नेता ने साफ कहा कि उनकी तरफ से कोई देरी नहीं की गई है बल्कि एक प्रक्रिया के तहत बातचीत चल रही थी।

महाराष्ट्र में राजनीतिक उठापटक के बीच कांग्रेस ने एक संवाददाता सम्मेलन करते हुए कहा कि ना बैंड, ना बाजा, ना बारात के बावजूद महाराष्ट्र में सीएम और डिप्टी सीएम पद के लिए शपथ दिलाई गई। यह लोकतंत्र में काले अध्याय के रूप में देखा जाएगा। पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने कहा कि राज्यपाल ने कांग्रेस को मौका नहीं दिया। 

अहमद पटेल ने कहा कि संवैधानिक कायदों का पालन नहीं किया गया बल्कि तमाम घटनाक्रम को चुपचाप अंजाम दिया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि कहीं ना कहीं कुछ गलत हुआ है। अहमद पटेल ने कहा कि महाराष्ट्र की जनता संविधान में आस्था करने वाले लोग हैं लेकिन उन्हें संवैधानिक संकट में झोंक दिया गया है और संविधान की धज्जियां उड़ाई गई है। भाजपा पर आरोप लगाते हुए अहमद पटेल ने कहा कि उन्होंने बेशर्मी की हदें पार कर दी है। हम इसकी निंदा करते हैं। उन्होंने दावा किया कि शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी के बीच सरकार बनाने को लेकर बातचीत चल रही थी। 

इसे भी पढ़ें: सरकार बनाने के खेल में फेल होने के बाद बोले उद्धव, बीजेपी नहीं साबित कर पाएगी बहुमत

इस बीच उन्होंने कहा कि आज सुबह जो कांड हुआ उसकी आलोचना करने के लिए हमारे पास कोई शब्द नहीं है कांग्रेस नेता ने साफ कहा कि उनकी तरफ से कोई देरी नहीं की गई है बल्कि एक प्रक्रिया के तहत बातचीत चल रही थी। हालांकि अहमद पटेल ने दावा किया कि एनसीपी शिवसेना और कांग्रेस एक साथ है और फोर टेस्ट में भाजपा को शिकस्त देने के लिए दोनों साथ रहेंगे। विधायकों कि टूट पर अहमद पटेल ने कहा कि सभी विधायक हमारे साथ मजबूती से खड़े हैं। कांग्रेस ने सरकार बनाने में कोई देरी नहीं की बल्कि एक प्रक्रिया का पालन किया।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।