बंगाल में शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिए निर्वाचन आयोग बढ़ा सकता है सुरक्षाकर्मियों की तादाद

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 22, 2021   10:07
बंगाल में शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिए निर्वाचन आयोग बढ़ा सकता है सुरक्षाकर्मियों की तादाद

अधिकारी ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग की पूर्ण पीठ प्रदेश में बड़े पैमाने पर केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल की तैनाती के बारे में भी सोच रही है।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में शांतिपूर्ण चुनाव कराने के मद्देनजर भारत निर्वाचन आयोग 2019 के लोकसभा चुनाव की अपेक्षा 25 फीसदी अधिक सुरक्षा कर्मियों की तैनाती करने पर विचार कर रहा है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय के एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग की पूर्ण पीठ प्रदेश में बड़े पैमाने पर केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) की तैनाती के बारे में भी सोच रही है। आयोग की पूर्ण पीठ अप्रैल-मई में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों का जायजा लेने के लिये अभी राज्य के दौरे पर हैं। 

इसे भी पढ़ें: मौलाना अब्बास सिद्दीकी ने बनाया नया राजनीतिक संगठन, वाम-कांग्रेस के साथ गठजोड़ की उम्मीद 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में मतदान केंद्रों की संख्या में बढोतरी हुयी है। राज्य में मतदान केंद्रों की संख्या 77,247 से बढ़कर 1,01,733 हो गयी है। इस बात के संकेत हैं कि आयोग पिछले लोकसभा चुनावों की अपेक्षा 25 फीसदी अधिक सुरक्षा कर्मियों की तैनाती करने पर विचार कर रहा है। प्रदेश में शांतिपूर्ण चुनाव कराने के लिये ऐसा किया जा रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।