दाऊद से जुड़े मामले में जांच के बाद ED ने नवाब मलिक को किया गिरफ्तार

दाऊद से जुड़े मामले में जांच के बाद ED ने नवाब मलिक को किया गिरफ्तार

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि जीतेंगे, झुकेंगे नहीं। यह बात उन्होंने मुंबई में ईडी कार्यालय से बाहर निकलते समय कही। एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक को प्रवर्तन निदेशालय कार्यालय से बाहर लाया गया और उन्हें मेडिकल जांच के लिए ले जाया गया।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने राकांपा नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक को दाऊद इब्राहिम और अंडरवर्ल्ड से जुड़े एक मामले में जांच के बाद गिरफ्तार कर लिया। अपनी गिरफ्तारी पर प्रतिक्रिया देते हुए महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि जीतेंगे, झुकेंगे नहीं। यह बात उन्होंने मुंबई में ईडी कार्यालय से बाहर निकलते समय कही। एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक को प्रवर्तन निदेशालय कार्यालय से बाहर लाया गया और उन्हें मेडिकल जांच के लिए ले जाया गया। 

इसे भी पढ़ें: पवार बोले-केंद्रीय जांच एजेंसियों के दुरुपयोग के विरोध में बोलने के लिए मलिक को किया जा रहा है परेशान

अधिकारियों ने बताया कि ईडी ने राज्य के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मलिक से मुंबई अंडरवर्ल्ड से जुड़े धन शोधन के एक मामले में पूछताछ की है। मलिक ईडी कार्यालय पहुंचे और वहां ‘धन शोधन निवारण अधिनियम’ (पीएमएलए) के तहत उनका बयान दर्ज किया गया। अंडरवर्ल्ड संबंधी गतिविधियों, सम्पत्ति की अवैध रूप से कथित खरीद-फरोख्त तथा हवाला लेनदेन के संबंध में ईडी ने 15 फरवरी को मुंबई में छापेमारी की थी और एक नया मामला दर्ज किया था, जिसके बाद मलिक से पूछताछ की गई। 

 2024 के बाद आप की भी जांच होगी: संजय राउत

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक को जिस तरह से ईडी के लोग उनके घर में जाकर लेकर गए हैं, यह महाराष्ट्र सरकार के लिए चुनौती है। पुराने मामलों को निकालकर सबकी जांच हो रही है। आप जांच कर सकते हैं। 2024 के बाद आप की भी जांच होगी। आने वाले दिनों में मैं सभी खुलासे करने जा रहा हूं। इसके लिए मुझे कितनी भी बड़ी कीमत क्यों ना चुकानी पड़े। मैं एक-एक अफ़सर को एक्सपोज करूंगा। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।