पद्म पुरस्कारों से सम्मानित होने वालों से बोले PM मोदी, ये असाधारण लोग दूसरों के जीवन में गुणात्मक परिवर्तन लाए हैं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 26, 2021   07:25
पद्म पुरस्कारों से सम्मानित होने वालों से बोले PM मोदी, ये असाधारण लोग दूसरों के जीवन में गुणात्मक परिवर्तन लाए हैं

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट किया कि हम सभी को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित लोगों पर गर्व है। राष्ट्र और मानवता संबंधीउनके बड़े योगदान के लिये भारत उनका आभारी है। जीवन के विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े ये असाधारण लोग दूसरों के जीवन में गुणात्मक परिवर्तन लाए हैं।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित होने वालों के योगदान की सराहना करते हुए कहा कि जीवन के विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े ये असाधारण लोग दूसरों के जीवन में गुणात्मक परिवर्तन लाए हैं। जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे और दिवंगत गायक एस पी बालासुब्रमण्यम को सोमवार को इस साल के पद्म विभूषण पुरस्कार जबकि असम के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत तरुण गोगोई, गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल, पूर्व केन्द्रीय मंत्री दिवंगत राम विलास पासवान और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को पद्म भूषण पुरस्कार के लिये नामित किया गया। 

इसे भी पढ़ें: सरकार ने किया पद्म पुरस्कारों का ऐलान, शिंजो आबे और एसपी बालासुब्रमण्यम को पद्म विभूषण 

मोदी ने ट्वीट किया, हम सभी को पद्म पुरस्कारों से सम्मानित लोगों पर गर्व है। राष्ट्र और मानवता संबंधीउनके बड़े योगदान के लिये भारत उनका आभारी है। जीवन के विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े ये असाधारण लोग दूसरों के जीवन में गुणात्मक परिवर्तन लाए हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा कि राष्ट्रपति ने 119 पद्म पुरस्कार दिए जाने को मंजूरी दी है जिनमें सात पद्म विभूषण, 10 पद्म भूषण और 102 पद्मश्री हैं। पद्म पुरस्कार विजेताओं में 29 महिलाएं हैं। इनमें 10 लोग विदेशी, प्रवासी भारतीय, पीआईओ और ओसीआई तथा एक व्यक्ति ट्रांसजेंडर श्रेणी से हैं। इनमें 16 लोगों को पद्म पुरस्कार मरणोपरांत दिए गए हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।