आगर-मालवा के ग्राम पिपलोन कलां में जर्जर पानी की टंकी भरभराकर गिर, पांच लोग घायल

आगर-मालवा के ग्राम पिपलोन कलां में जर्जर पानी की टंकी भरभराकर गिर, पांच लोग घायल

घायल धर्मेन्द्र मीणा ने बताया कि वह सुबह अपने घर के बाहर बैठे थे, तभी यह हादसा हुआ। उन्होंने बताया कि जर्जर हो चुकी इस टंकी को हटाने के लिए उन्होंने कई बार ग्राम पंचायत में आवेदन दिया था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

आगर-मालवा। मध्य प्रदेश के आगर-मालवा जिले के ग्राम पंचायत पिपलोन कलां में रहवासी क्षेत्र में बनी एक पुरानी जर्जर लोहे के पतरे से बनी पानी की टंकी रविवार सुबह अचानक भरभराकर नीचे गिर गई। इस हादसे में टंकी के पास रहने वाले पांच लोग घायल हो गए, जिन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है। जानकारी लगने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को जांच में लिया। 

इसे भी पढ़ें: मुरैना जिला जेल में हत्या के आरोपी की मौत, परिजनों ने लगाए गंभीर आरोप

जानकारी के अनुसार, ग्राम पिपलोन कलां में काली मोहल्ला पुराने थाने के पास रहवानी इलाके में वर्षों पुरानी लोहे और पतरे से बनी पानी की टंकी से पूरे गांव में पीनी की सप्लाई होती थी। रविवार को सुबह यह जर्जर हालत में पहुंच चुकी टंकी अचानक भरभराकर धराशायी हो गई। बताया जा रहा है कि पास ही रहने वाले धर्मेन्द्र मीणा अपने परिजनों के साथ घर के बाहर बैठे थे।

इसे भी पढ़ें: इंदौर में आठवें दिन लगातार कोरोना के 500 से अधिक मामले, अब तक 756 लोगों की हुई मौत

इसी दौरान टंकी अचानक गिरने से धर्मेन्द्र और उनके चार बच्चे घायल हो गए। घायलों में 16 वर्षीय अर्जुन मीणा, डेढ़ वर्षीय कुंदन, चार वर्षीय रिया और डेढ़ वर्षीय राधिका शामिल हैं। पांचों घायलों को आगरमालवा के जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उनका उपचार जारी है। घायल धर्मेन्द्र मीणा ने बताया कि वह सुबह अपने घर के बाहर बैठे थे, तभी यह हादसा हुआ। उन्होंने बताया कि जर्जर हो चुकी इस टंकी को हटाने के लिए उन्होंने कई बार ग्राम पंचायत में आवेदन दिया था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। गनीमत रही कि टंकी उनके उपर नहीं गिरी, अन्यथा उनकी जान भी जा सकती थी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...