दिल्ली के स्कूल में भी कोरोना ने दी दस्तक, निगरानी कर रही केजरीवाल सरकार, जारी होंगे दिशा-निर्देश

Manish Sisodia
प्रतिरूप फोटो
Twitter Image
उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में कोविड के मामलों में बढ़ोतरी हुई है। हम भी स्कूलों पर निगरानी रखे हुए हैं। हमने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को भी नए दिशा-निर्देश जारी करने के लिए कहा है। कल तक हम इन दिशा-निर्देशों को जारी कर देंगे। इसी बीच उन्होंने कहा कि चिंता करने की जरूरत नहीं है।

नयी दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं। नोएडा और गाजियाबाद के बाद दिल्ली के स्कूल में भी कोरोना वायरस ने दस्तक दे दी है। आपको बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी के एक स्कूल में एक शिक्षक और एक छात्र की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसके तुरंत बाद स्कूल में पढ़ाई कर रहे छात्रों को घर भेज दिया गया। इस संबंध में अरविंद केजरीवाल सरकार का बयान भी सामने आया है। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस फिर बढ़ा रहा है देश में टेंशन, फिर से बढ़ने लगी संक्रमितों की संख्या 

जारी होंगे दिशा-निर्देश

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में कोविड के मामलों में बढ़ोतरी हुई है। हम भी स्कूलों पर निगरानी रखे हुए हैं। हमने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को भी नए दिशा-निर्देश जारी करने के लिए कहा है। कल तक हम इन दिशा-निर्देशों को जारी कर देंगे। इसी बीच उन्होंने कहा कि कोविड के मामलों में बढ़ोतरी हुई है लेकिन अस्पताल में भर्ती कराने की नौबत नहीं आई है। ऐसे में चिंता करने की जरूरत नहीं है।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलों में उछाल, 299 नए केस सामने आए

कोरोना के बढ़ रहे मामले

दिल्ली में कोरोना के मामले फिर से बढ़ने लगे हैं। राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को कोरोना के 299 नए मामले सामने आए। हालांकि इस दौरान 173 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। इसके साथ ही सक्रिय मामलो की संख्या 800 के पार पहुंच गई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम दिल्ली में कोविड के बढ़ते मामलों पर नज़र रख रहे हैं। लोग अस्पताल में भर्ती नहीं हो रहे हैं और अभी चिंता करने की बात नहीं है। अगर ज़रूरत पड़ेगी तो हम स्कूलों के लिए दिशा-निर्देश ज़रूर लाएंगे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़