राज्यपाल धनखड़ ने नेताजी की तस्वीर का किया अनावरण, बोले- उनके दिखाए मार्ग पर युवाओं को आगे बढ़ना चाहिए

राज्यपाल धनखड़ ने नेताजी की तस्वीर का किया अनावरण, बोले- उनके दिखाए मार्ग पर युवाओं को आगे बढ़ना चाहिए

स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जन्म 23 जनवरी को ओडिशा के कटक में हुआ था। भारत सरकार ने उनकी जयंती को ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाने की घोषणा की है।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राजभवन में स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती के मौके पर उनकी तस्वीर का अनावरण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सुखद है कि 2014 के बाद नेताजी की ख्याति और योगदान को उपयुक्त सम्मान दिया गया है। उन्होंने जो मार्ग दिखाया उस पर युवाओं को आगे बढ़ना चाहिए।  

इसे भी पढ़ें: नेताजी सुभाष चंद्र बोस के भीतर बाल्यकाल से ही देश के लिए कुछ कर गुजरने का जज्बा था 

बता दें कि नेताजी का जन्म 23 जनवरी को ओडिशा के कटक में हुआ था। भारत सरकार ने उनकी जयंती को ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाने की घोषणा की है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक राज्यपाल धनखड़ ने कहा कि 23 जनवरी को 'पराक्रम दिवस' के रूप में मनाया जाएगा क्योंकि यह नेताजी की वीरता को दर्शाता है और यह कि उन्होंने कैसे देश को एकजुट किया।

इस बीच राज्यपाल धनखड़ ने होने वाले विधानसभा चुनाव पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि मैं पश्चिम बंगाल के लोगों को विश्वास दिलाता हूं कि राज्य में निष्पक्ष और हिंसा मुक्त विधानसभा चुनाव सुनिश्चित करने के लिए हर कदम उठाया जाएगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।