मध्य प्रदेश के जबलपुर में आग लगने की दो घटनाओं में 25 लाख का माल जलकर खाक

मध्य प्रदेश के जबलपुर में आग लगने की दो घटनाओं में 25 लाख का माल जलकर खाक

पहली घटना रामपुर आजाद चौक स्थित फल मंडी की है। यहां सोमवार तड़के करीब 3.20 बजे अचानक लगी आग तेजी से फैली और फलों की छह दुकानों को चपेट में ले लिया। जिसकी सूचना चीता मोबाइल ने कंट्रोल रूम को दी। इसके बाद मौके पर फायर ब्रिगेड के दो वाहन पहुंचे।

जबलपुर। मध्य प्रदेश के जबलपुर  शहर में आग लगने की दो घटनाओं में लगभग 25 लाख रूपए का माल जलकर खाक हो गया। जबलपुर शहर में सोमवार को फल मंडी और कपड़े की दुकान में आग लग गई। दुर्घटना में करीब 5 लाख रुपये कीमत के फल और 20 लाख रुपये का कपड़ा खाक हो गया। फायर ब्रिगेड के गाड़ियों ने पहुंचकर आग को फैलने से रोका।  पहली घटना रामपुर आजाद चौक स्थित फल मंडी की है। यहां सोमवार तड़के करीब 3.20 बजे अचानक लगी आग तेजी से फैली और फलों की छह दुकानों को चपेट में ले लिया।  जिसकी सूचना चीता मोबाइल ने कंट्रोल रूम को दी। इसके बाद मौके पर फायर ब्रिगेड के दो वाहन पहुंचे। लगभग एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका।

 

इसे भी पढ़ें: डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने लिखा प्रशांत जी जरा धैर्य रखें, भाजपा पश्चिम बंगाल में 200 सीटें जीतेगी

हालंकि आग कैसे लगी ये पता नहीं चल पाया है। आशंका जताई जा रही है कि शॉर्ट सर्किट या आगजनी के चलते यह आग लगी। सोमवार सुबह व्यापारी जब दुकान खोलने पहुंचे तो उन्हें हादसे की जानकारी हुई। पीड़ित फल व्यापारी शिवम गुप्ता, आशीष गुप्ता, मिथिलेश गुप्ता सहित अन्य  व्यापारियों ने बताया कि उनका पांच से छह लाख रुपये का नुकसान हुआ है। मंडी के 400 कैरेट भी जल गये। व्यापारियों ने प्रशासन से नुकसान का मुआवजा दिलाने की मांग की, जिससे वह अपना व्यापार फिर से खड़ा कर पाएं।

इसे भी पढ़ें: राजगढ़ पुलिस 7 लाख 80 हजार की जहरीली शराब की जब्त, पिकअप सहित दो आरोपी गिरफ्तार

वही दूसरी घटना गोहलपुर क्षेत्र में आजाद पार्क के सामने की है। यहां अनीश अंसारी की कपड़े की दुकान में सोमवार तड़के 4.35 बजे आग लग गई। मौके पर नगर निगम से फायर ब्रिगेड की तीन गाड़ी पहुंची। लगभग दो घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। अनीश के मुताबिक उसकी दुकान में शार्ट-सर्किट से आग लगी थी। हादसे में दुकान में रखी 20 लाख की साड़ी और अन्य कपड़े स्वाहा हो गए। सुबह होने की वजह से लोगों को हादसे की खबर भी देर से लगी। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...