संकटमोचक बना भारत, कोरोना प्रभावित 55 देशों को भेज रहा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 16, 2020   22:38
  • Like
संकटमोचक बना भारत, कोरोना प्रभावित 55 देशों को भेज रहा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन

सूत्रों के अनुसार भारत ज़ाम्बिया, डोमिनिकन गणराज्य, मडागास्कर, युगांडा, बुर्किना फ़ासो, नाइजर, माली, कांगो, मिस्र, आर्मेनिया, कज़ाकिस्तान, इक्वाडोर, जमैका, सीरिया, यूक्रेन, चाड, ज़िम्बाब्वे, फ्रांस, जॉर्डन, केन्या, केन्या, नाइजीरिया, नाइजीरिया को भी हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की आपूर्ति कर रहा है।

नयी दिल्ली।  भारत कोरोना वायरस से प्रभावित 55 देशों को अनुदान के साथ-साथ वाणिज्यिक आधार पर मलेरिया-रोधी दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की आपूर्ति करने की प्रक्रिया में भी है। आधिकारिक सूत्रों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अमेरिका, मॉरीशस और सेशेल्स सहित कई देशों को इस दवा की खेप मिल चुकी है वहीं कई देशों को इस सप्ताह के अंत तक यह मिल जाएगी। अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन ने कोविड-19 के संभावित उपचार के रूप में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की पहचान की है और न्यूयॉर्क में 1500 से अधिक कोरोना वायरस रोगियों पर इसका परीक्षण किया जा रहा है।

भारत द्वारा निर्यात प्रतिबंध हटाने का फैसला करने के बाद पिछले कुछ दिनों में इस दवा की मांग तेजी से बढ़ी है। सूत्रों ने कहा कि भारत अपने पड़ोस में अफगानिस्तान, भूटान, बांग्लादेश नेपाल, मालदीव, मॉरीशस, श्रीलंका और म्यामां को यह दवा भेज रहा है।  यह अभी तक ज्ञात नहीं है कि पाकिस्तान ने दवा खरीदने की बात की है या नहीं। सूत्रों के अनुसार भारत ज़ाम्बिया, डोमिनिकन गणराज्य, मडागास्कर, युगांडा, बुर्किना फ़ासो, नाइजर, माली, कांगो, मिस्र, आर्मेनिया, कज़ाकिस्तान, इक्वाडोर, जमैका, सीरिया, यूक्रेन, चाड, ज़िम्बाब्वे, फ्रांस, जॉर्डन, केन्या, केन्या, नाइजीरिया, नाइजीरिया को भी हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की आपूर्ति कर रहा है। 

इसे भी पढ़ें: सरकार का दावा, देश में है हाइड्रॉक्सि क्लोरोक्वीन का पर्याप्त भंडार

सूत्रों ने कहा कि कई देशों को दवा व्यावसायिक आधार पर भेजी जा रही है जबकि कई अन्य देशों को भारत अनुदान के रूप में यह दवा दे रहा है। हाल ही में टेलीफोन पर हुयी बातचीत में, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध किया था कि वह हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की बिक्री की अनुमति दें।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


टोपी पहनकर संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने नियमितीकरण की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

  •  दिनेश शुक्ल
  •  जनवरी 26, 2021   23:22
  • Like
टोपी पहनकर संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने नियमितीकरण की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा टोपी पहनकर संविदा शोषित व्यवस्था का विरोध किया गया। इनका कहना है कि संविदा के नाम पर कर्मचारियों का लगातार शोषण किया जा रहा है।

राजगढ़। मध्य प्रदेश में जिला चिकित्सालय राजगढ़, सिविल अस्पताल ब्यावरा, नरसिंहगढ़ सहित अन्य जगह गणतंत्र दिवस के अवसर पर नियमितीकरण की मांग को लेकर संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने संविदा टोपी पहनी और झण्डावंदन कर प्रदर्शन किया। संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा टोपी पहनकर संविदा शोषित व्यवस्था का विरोध किया गया। इनका कहना है कि संविदा के नाम पर कर्मचारियों का लगातार शोषण किया जा रहा है।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के अनूपपुर में किसान आंदोलन के समर्थन में निकली ट्रैक्टर रैली

इन कर्मचारियों का कहना है कि सालों से नियमितीकरण, नियमित कर्मचारियों का 90 प्रतिशत वेतन और निकाले गए कर्मचारियों की बहाली को लेकर मांग की जा रही है, लेकिन अब तक कोई सुनवाई नहीं हुई है। कम वेतन पर नियमित स्टाफ से अधिक काम लेकर कब तक शोषण किया जाएगा साथ ही अप्रैजल के बहाने कर्मचारियों को नौकरी से बाहर करना कहां का न्याय है। चुनाव के पहले नियमित करने का सपना दिखाया जाता है और सरकार बनने के बाद संविदा कर्मचारियों का ही शोषण किया जाता रहा है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


मध्य प्रदेश के अनूपपुर में किसान आंदोलन के समर्थन में निकली ट्रैक्टर रैली

  •  दिनेश शुक्ल
  •  जनवरी 26, 2021   22:35
  • Like
मध्य प्रदेश के अनूपपुर में किसान आंदोलन के समर्थन में निकली ट्रैक्टर रैली

किसान नेताओं ने बताया कि जब तक हमारी मांगों को पूरा नहीं किया जाता तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। आंदोलन का नेतृत्व मध्य प्रदेश किसान सभा के जिला अध्यक्ष रमेश सिंह, महासचिव दलवीर केवट, संयुक्त ठेकेदारी मजदूर यूनियन के अध्यक्ष जुगल किशोर, कोषाध्यक्ष सहसराम चौधरी एवं सीटू महासचिव इंद्र पति सिंह ने किया।

अनूपपुर। मध्य प्रदेश के अनूपपुर में किसान आन्दोलन के सर्मथन में मध्य प्रदेश किसान सभा एवं संयुक्त ठेकेदारी मजदूर यूनियन (सीटू)के आह्वान पर गणतंत्र दिवस के अवसर पर मंगलवार को ट्रैक्टर मार्च निकाला। ट्रैक्टर मार्च में शामिल किसान एवं मजदूरों ने किसान विरोधी काला कानून, मजदूर विरोधी श्रम संहिता को रद्द करो, पुनर्वास के शर्तों के अनुसार मोजर बेयर पावर प्लांट में खातेदारों को नौकरी दो, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव के विरुद्ध कायम फर्जी मुकदमा रद्द करनें सहित कई मांगो को लेकर नारा लगाते हुए रैंली निकाली।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में हर्षोल्लास और राष्ट्रभक्ति के साथ मनाया गया गणतंत्र दिवस

किसान नेताओं ने बताया कि जब तक हमारी मांगों को पूरा नहीं किया जाता तब तक यह आंदोलन जारी रहेगा। आंदोलन का नेतृत्व मध्य प्रदेश किसान सभा के जिला अध्यक्ष रमेश सिंह, महासचिव दलवीर केवट, संयुक्त ठेकेदारी मजदूर यूनियन के अध्यक्ष जुगल किशोर, कोषाध्यक्ष सहसराम चौधरी एवं सीटू महासचिव इंद्र पति सिंह ने किया।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


मध्य प्रदेश में हर्षोल्लास और राष्ट्रभक्ति के साथ मनाया गया गणतंत्र दिवस

  •  दिनेश शुक्ल
  •  जनवरी 26, 2021   21:58
  • Like
मध्य प्रदेश में हर्षोल्लास और राष्ट्रभक्ति के साथ मनाया गया गणतंत्र दिवस

जिला मुख्यालयों पर आयोजित समारोह में परेड, सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं झांकियों को पुरस्कार भी वितरित किये गये। जिला मुख्यालयों की तर्ज पर नगरीय निकाय, जनपद पंचायत एवं ग्राम पंचायत मुख्यालयों में भी गणतंत्र दिवस समारोहपूर्वक मनाया गया।

भोपाल। मध्य प्रदेश में 72वाँ गणतंत्र दिवस मंगलवार को हर्षोल्लास एवं राष्ट्रभक्ति की भावना के साथ मनाया गया। जिला मुख्यालयों पर आयोजित कार्यक्रमों में राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया। साथ ही आकर्षक परेड के साथ देशभक्ति से परिपूर्ण सांस्कृतिक कार्यक्रमों की आकर्षक प्रस्तुति भी हुई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का प्रदेश की जनता के नाम संदेश का वाचन भी किया गया। विभिन्न विभागों की विकास आधारित झांकियां भी निकाली गई। समारोह में उत्कृष्ट कार्य करने वाले शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों को पुरस्कृत भी किया गया।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री चौहान ने पद्म सम्मान से सम्मानित सुमित्रा महाजन, डॉ. कपिल तिवारी और भूरी बाई को दी बधाई

प्रदेश के दतिया मुख्यालय पर प्रदेश के गृह जेल, संसदीय कार्य एवं विधि मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इसी तरह सागर मुख्यालय पर लोक निर्माण, कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री गोपाल भार्गव ने सागर, जल संसाधन, मछुआ कल्याण तथा मत्स्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने इंदौर, वन मंत्री कुंवर विजय शाह ने खंडवा, वाणिज्यिक कर, वित्त, योजना आर्थिक एवं सांख्यिकी मंत्री जगदीश देवड़ा ने मंदसौर, खाद्य नागरिक, आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह ने अनूपपुर, खेल एवं युवा कल्याण, तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने शिवपुरी, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने जबलपुर, आदिम जाति कल्याण, अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री मीना सिंह मांडवे ने उमरिया में ध्‍वजारोह किया। 

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में दो करोड़ पात्र परिवारों को आयुष्मान कार्ड

तो वही किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने हरदा, राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने छिंदवाड़ा, खनिज साधन एवं श्रम मंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह ने पन्ना, चिकित्सा शिक्षा, भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने सीहोर, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने रायसेन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री डॉ. महेन्द्र सिंह सिसौदिया ने गुना, ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने ग्वालियर, पशुपालन, सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण मंत्री प्रेमसिंह पटेल ने बड़वानी, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा ने नीमच, पर्यटन, संस्कृति एवं आध्यात्म मंत्री उषा ठाकुर ने होशंगाबाद, सहकारिता, लोक सेवा प्रबंधन मंत्री अरविंद भदौरिया ने भिंड, उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने उज्जैन, नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा, पर्यावरण मंत्री हरदीप सिंह डंग ने राजगढ़ और औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन मंत्री राजवर्धन सिंह प्रेमसिंह दत्तीगांव ने धार जिले में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और मुख्यमंत्री चौहान के प्रदेश की जनता के नाम संदेश का वाचन किया।

इसे भी पढ़ें: झूठ बोलने में कमलनाथ भी चल पड़े दिग्विजय सिंह की राह परः विष्णुदत्त शर्मा

उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण (स्वतंत्र प्रभार), नर्मदा घाटी विकास राज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह ने मुरैना, स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार), सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री इंदर सिंह परमार ने शाजापुर, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, जनजातीय कार्य, विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्द्ध घुमक्कड़ जनजातीय कल्याण (स्वतंत्र प्रभार), पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री राम खेलावन पटेल ने सतना, आयुष (स्वतंत्र प्रभार), जल संसाधन राज्य मंत्री रामकिशोर (नानो) कावरे ने बालाघाट, लोक स्वास्थ्य एवं यांत्रिकी राज्य मंत्री बृजेन्द्र सिंह यादव ने अशोकनगर, लोक निर्माण राज्य मंत्री सुरेश धाकड़ ने बैतूल और नगरीय विकास एवं आवास राज्य मंत्री ओ.पी.एस. भदौरिया ने छतरपुर में राष्ट्रीय ध्वज फहराया और मुख्यमंत्री चौहान का प्रदेश की जनता के नाम संदेश का वाचन किया।

इसे भी पढ़ें: ओटीटी प्लेटफॉर्म पर परोसी जा रही अश्लील सामग्री पर होना चाहिए सेंसर: मुख्यमंत्री चौहान

प्रदेश के विदिशा, श्योपुर, अलीराजपुर, झाबुआ, बुरहानपुर, खरगोन, कटनी, मण्डला, डिण्डोरी, नरसिंहपुर, सिवनी, शहडोल, सिंगरौली, सीधी, दमोह, टीकमगढ़, देवास, रतलाम, आगर-मालवा और निवाड़ी जिले में कलेक्टर ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और मुख्यमंत्री चौहान का प्रदेश की जनता के नाम संदेश का वाचन किया गया। जिला मुख्यालयों पर आयोजित समारोह में परेड, सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं झांकियों को पुरस्कार भी वितरित किये गये। जिला मुख्यालयों की तर्ज पर नगरीय निकाय, जनपद पंचायत एवं ग्राम पंचायत मुख्यालयों में भी गणतंत्र दिवस समारोहपूर्वक मनाया गया।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept