धमाकों से पहले भारत ने श्रीलंका से कार्रवाई योग्य जानकारी साझा की थी : राजनाथ

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 25 2019 7:31PM
धमाकों से पहले भारत ने श्रीलंका से कार्रवाई योग्य जानकारी साझा की थी  : राजनाथ
Image Source: Google

राजनाथ सिंह ने कहा कि यह उस देश की सरकार को दोष देने का सवाल नहीं है। माना जा रहा है कि स्थानीय आतंकवादी संगठन नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) के नौ आत्मघाती हमलावरों ने तीन चर्चों और तीन लग्जरी होटलों समेत कई धमाकों को अंजाम दिया। एनटीजे ने हालांकि हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है।

मुंबई। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारतीय अधिकारियों ने “धमाकों से पहले श्रीलंका के साथ कार्रवाई योग्य खुफिया सूचनाएं” साझा की थीं। ईस्टर के मौके पर रविवार को हुए बम धमाकों में इस द्वीपीय राष्ट्र में करीब 360 लोगों की जान चली गई थी। सिंह ने बताया, “श्रीलंका में अधिकारियों के साथ बम धमाकों से पहले इच्छित और कार्रवाई योग्य खुफिया जानकारी साझा की गई थी। लेकिन दुर्भाग्यवश, वे (साजिशकर्ता) सफल हो गए।”

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: ‘गरीबी हटाओ’ के नारे से कांग्रेस देश की जनता को दशकों से छल रही है: राजनाथ

यह पूछे जाने पर कि क्या श्रीलंका उन सूचनाओं पर कार्रवाई करने में विफल रहा, उन्होंने कहा कि यह उस देश की सरकार को दोष देने का सवाल नहीं है। माना जा रहा है कि स्थानीय आतंकवादी संगठन नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) के नौ आत्मघाती हमलावरों ने तीन चर्चों और तीन लग्जरी होटलों समेत कई धमाकों को अंजाम दिया। एनटीजे ने हालांकि हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है। 

इसे भी पढ़ें: धारा 370 संविधान की एक अस्थायी व्यवस्था है: राजनाथ सिंह



अधिकारियों के मुताबि, श्रीलंका में भारतीय उच्चायोग को निशाना बनाए जाने समेत संभावित आतंकी हमलों को लेकर भारतीय एजेंसियों ने द्विपीय राष्ट्र में अपने समकक्षों को खुफिया जानकारी उपलब्ध कराई थी। यह जानकारी राष्ट्रीय जांच एजेंसी द्वारा दक्षिण एशिया में आईएसआईएस से प्रेरित एक मॉड्यूल द्वारा प्रमुख नेताओं की हत्या की साजिश रचे जाने से जुड़ी जांच पूरी करने के बाद सामने आई थी। इस मामले की गहनता से पड़ताल के बाद कूटनीतिक माध्यमों से श्रीलंका को जानकारी भेजी गई थी। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video