देश एक स्थायी और निर्णायक प्रधानमंत्री चाहता है, न कि अनुबंध पर: नकवी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 13 2019 10:30AM
देश एक स्थायी और निर्णायक प्रधानमंत्री चाहता है, न कि अनुबंध पर: नकवी
Image Source: Google

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि लोग एक मजबूत और निर्णय करने वाली सरकार चाहते हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश जुगाड़ या जोड़ तोड़ की सरकार नहीं चाहता है।

कोलकाता। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने रविवार को कहा कि देश एक स्थायी और निर्णायक प्रधानमंत्री चाहता है, न कि अनुबंध पर। विपक्षी गठबंधन में प्रधानमंत्री पद के कई उम्मीदवार होने की ओर इशारा करते हुए नकवी ने कहा कि देश ठेके पर प्रधानमंत्री नहीं चाहता है, जहां छह महीने के लिए कोई एक व्यक्ति प्रधानमंत्री होगा और अगले छह महीने के लिए कोई और व्यक्ति प्रधानमंत्री बनेगा। उन्होंने यहां संवाददाता सम्मेलन में जोर देकर कहा कि लोग एक मजबूत और निर्णय करने वाली सरकार चाहते हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश जुगाड़ या जोड़ तोड़ की सरकार नहीं चाहता है।

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: पित्रोदा ने 1984 के दंगा पीड़ितों के जख्मों पर नमक छिड़का है: नकवी

अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने कहा कि पिछले पांच साल में विकास के जो काम हुए हैं, लोग उसके लिए मतदान करेंगे। उन्होंने कहा कि विपक्षी गठबंधन अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहा है। नकवी ने दावा किया, ‘अधिकतर विपक्षी दल निर्वाचन के बाद अपनी पहचान खो देंगे क्योंकि वे अपने अस्तित्व के लिए संघर्ष कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि विपक्ष की नकारात्मक और बाधा डालने वाली राजनीति के बावजूद मोदी सरकार ने समाज के हर तबके के कल्याण के लिए अथक और ईमानदारी से काम किया है। पहले तो विपक्ष नरेंद्र मोदी को अपशब्द कहा करता था लेकिन अब उन्होंने ईवीएम को गाली देना शुरू कर दिया है। उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर प्रहार करते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस जैसी विपक्षी पार्टी सत्यमेव जयते की विरासत को झूठमेव जयते की राजनीति में तब्दील करना चाहती है।



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video