जावड़ेकर का आरोप, शिवसेना ने CM का पद पाने के लिए जनादेश के साथ किया ‘छल’

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 31, 2020   21:42
जावड़ेकर का आरोप, शिवसेना ने CM का पद पाने के लिए जनादेश के साथ किया ‘छल’

जावडेकर ने कहा कि सरकार सूचना और प्रसारण मंत्रालय की बाल फिल्म सोसाइटी और फिल्म डिविजन जैसी फिल्म इकाइयों को मिलाकर एक इकाई बनाने पर विचार कर रही है ताकि मौजूदा संसाधनों का प्रभावी तरीके से इस्तेमाल किया जा सके।

मुंबई। केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता प्रकाश जावडेकर ने शुक्रवार को कहा कि शिवसेना ने महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री का पद पाने के लिए 2019 के विधानसभा चुनाव में मिले जनादेश के साथ ‘छल’ किया। शिवसेना ने भाजपा के साथ नाता तोड़कर विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस और राकांपा से हाथ मिला लिया और पिछले साल नवंबर में महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार का गठन किया। जावडेकर ने मराठी समाचार चैनल द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘लोकसभा और बाद में विधानसभा चुनाव में भाजपा और शिवसेना ने (प्रधानमंत्री नरेंद्र) मोदी के नेतृत्व में चुनाव लड़ा और दूसरे कार्यकाल का जनादेश मिला।’’ 

इसे भी पढ़ें: भाजपा सांसद ने दी सफाई, कहा- राज्यभर के नहीं बल्कि स्थानीय अधिकारियों के बारे में की थी टिप्पणी

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन शिवसेना ने जनादेश से छल किया और महज मुख्यमंत्री का पद पाने के लिए चुनाव में हार का सामना करने वाली दो पार्टियों से हाथ मिला लिया।’’ सूचना और प्रसारण मंत्री ने दावा किया कि महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ गठबंधन में मतभेद है। शिवसेना नेतृत्व वाली सरकार की स्थिरता का हवाला देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हालिया इतिहास को भुलाया नहीं जा सकता। मौजूदा गठबंधन के भीतर मतभेद है।’’ जावड़ेकर ने कहा कि कांग्रेस को राष्ट्रीय स्तर पर अकेला छोड़ दिया गया है। 

इसे भी पढ़ें: तीन तलाक कानून ने महिलाओं के सशक्तिकरण में दिया योगदान: जावड़ेकर

उन्होंने कहा, ‘‘राहुल गांधी चीन का मुद्दा उठाते रहते हैं लेकिन दूसरे विपक्षी दलों और कांग्रेस के भीतर भी उसपर ध्यान नहीं दिया जाता है। यह इसलिए हुआ है क्योंकि कांग्रेस परिवार केंद्रित पार्टी बन गयी है।’’ जावडेकर ने कहा कि सरकार सूचना और प्रसारण मंत्रालय की बाल फिल्म सोसाइटी और फिल्म डिविजन जैसी फिल्म इकाइयों को मिलाकर एक इकाई बनाने पर विचार कर रही है ताकि मौजूदा संसाधनों का प्रभावी तरीके से इस्तेमाल किया जा सके।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।