भगवंत मान ने केजरीवाल के साथ सरकारी स्कूल का किया दौरा, बोले- बड़ी कंपनियों के सहयोग से हो रही डिजिटल शिक्षा

भगवंत मान ने केजरीवाल के साथ सरकारी स्कूल का किया दौरा, बोले- बड़ी कंपनियों के सहयोग से हो रही डिजिटल शिक्षा
प्रतिरूप फोटो
ANI Image

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बताया कि यह अगले स्तर की शिक्षा है। कुछ ऐसा जिसके बारे में बड़े स्कूल सोच भी नहीं सकते, उसे सरकारी स्कूलों ने लागू कर दिया है। डिजिटल शिक्षा हो रही है। बड़ी कंपनियों का सहयोग है। मैंने अमेरिका-कनाडा में ऐसे स्कूल देखे हैं लेकिन भारत में नहीं।

नयी दिल्ली। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान सोमवार को दिल्ली दौरे पर यहां पहुंचे। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ कालकाजी के डॉ. बीआर अंबेडकर स्कूल ऑफ स्पेशलाइज्ड एक्सीलेंस का दौरा किया। इस दौरान भगवंत मान के साथ पंजाब सरकार के शीर्ष अधिकारी भी मौजूद रहे। जिन्हें दिल्ली के शिक्षा निदेशक हिमांशु गुप्ता ने अहम जानकारी दी। 

इसे भी पढ़ें: पंजाब में जुगाड़ रेहड़ी पर लगी रोक, विपक्षी दलों ने भगवंत मान सरकार पर साधा निशाना, कही यह बात 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, मुख्यमंत्री भगवंत मान ने बताया कि यह अगले स्तर की शिक्षा है। कुछ ऐसा जिसके बारे में बड़े स्कूल सोच भी नहीं सकते, उसे सरकारी स्कूलों ने लागू कर दिया है। डिजिटल शिक्षा हो रही है। बड़ी कंपनियों का सहयोग है। मैंने अमेरिका-कनाडा में ऐसे स्कूल देखे हैं लेकिन भारत में नहीं। उन्होंने कहा कि मैंने यहां कई छात्रों से बात की। उन्होंने यहां दाखिला लेने के लिए बड़े निजी स्कूलों को छोड़ दिया। उनका कहना है कि यहां सुविधाएं ज्यादा हैं। इन छात्रों के पास नए विचार हैं।

माना जा रहा है कि भगवंत मान सरकारी स्कूल और मोहल्ला क्लीनिक के मॉडल को पंजाब में भी लागू करने का विचार कर रहे हैं। ऐसे में उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की। 

इसे भी पढ़ें: सिद्धू ने भगवंत मान को बताया ‘रबर का गुड्डा’, कहा- दिल्ली से चल रही पंजाब की सरकार 

मनोज तिवारी ने दी थी नसीहत

भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने भगवंत मान को नसीहत दी थी कि अरविंद केजरीवाल के जाल में मत फंसना। उन्होंने कहा था कि भाई भगवंत मान जी आप केजरीवाल जी के जाल में मत फंसना, आप तो पुराने साथी रहे हो लोकसभा में भी, तो चलो 2-3 स्कूल और मोहल्ला क्लिनिक मैं अपनी नॉर्थईस्ट दिल्ली में दिखाता हूं। अब आप मुख्यमंत्री हैं सच तो देखना भी चाहिए, स्कूल के कमरों की कड़ी कुंडे वाली छत का दाम क्या होगा ये भी पता करेंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...