सपा प्रमुख पर केशव मौर्य का तंज, अपना नाम ‘अखिलेश अली जिन्ना’ और पार्टी का ‘जिन्नावादी पार्टी’ रख लें

सपा प्रमुख पर केशव मौर्य का तंज, अपना नाम ‘अखिलेश अली जिन्ना’ और पार्टी का ‘जिन्नावादी पार्टी’ रख लें

यूपी के उपमुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उनके साथ गुंडे, अपराधी माफिया हैं। मौर्य ने यह भी कहा कि तुष्टीकरण के कारण उनके साथ अब जिन्ना मियां भी आ गए हैं। इसलिए मैं कह सकता हूं कि वह अपना नाम बदलकर अखिलेश अली जिन्ना रख लें तथा पार्टी का नाम जिन्नावादी पार्टी रख लें।

उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक पारा लगातार चढ़ता जा रहा है। भाजपा और मुख्य विपक्षी पार्टी समाजवादी पार्टी के बीच जुबानी जंग भी तेज होते जा रही है। हाल में ही समाजवादी पार्टी के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने एक संबोधन में मोहम्मद अली जिन्ना का जिक्र किया था जिसके बाद से लगातार वह भाजपा के निशाने पर हैं। इसी कड़ी में आज उन पर निशाना साधते हुए उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने जबरदस्त तंज कसा है। अखिलेश यादव पर हमला करते हुए केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि उन्हें अपना नाम बदलकर अखिलेश अली जिन्ना रख लेना चाहिए। साथ ही अपनी पार्टी का भी नाम जिन्नावादी पार्टी रख लेना चाहिए।

यूपी के उपमुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि उनके साथ गुंडे, अपराधी माफिया हैं। मौर्य ने यह भी कहा कि तुष्टीकरण के कारण उनके साथ अब जिन्ना मियां भी आ गए हैं। इसलिए मैं कह सकता हूं कि वह अपना नाम बदलकर अखिलेश अली जिन्ना रख लें तथा पार्टी का नाम जिन्नावादी पार्टी रख लें। इसके बाद केशव मौर्य ने यह भी कहा कि अखिलेश और उनकी पार्टी को ना तो जिन्ना जीता पाएंगे और ना ही अतीक अहमद और अंसारी जीता पाएंगे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता भाजपा के साथ है और नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा एक बार फिर से 300 से ज्यादा सीटें हासिल करेगी।

इसे भी पढ़ें: दल बदलने वालों का नया ठिकाना बन रही है 'समाजवादी पार्टी', अखिलेश यादव का 'जोश हाई'

दूसरी ओर अखिलेश यादव पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का लगातार श्रेय लेने की कोशिश में है। वह भाजपा पर इसका श्रेय लेने का आरोप लगा रहे हैं। अखिलेश यादव ने साफ तौर पर कहा है कि पूर्वांचल एक्सप्रेस वे समाजवादी सरकार के द्वारा बनाया गया है। जनता इसका श्रेय समाजवादी पार्टी को दे रही है। उन्होंने एक तंज भरे लहजे में कहा कि भाजपा का विकास मात्र रंग और नाम बदलना है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।