PFI के कथित हमले में मारे गए संघ कार्यकर्ता के परिवार से मिले मनमोहन वैद्य

PFI के कथित हमले में मारे गए संघ कार्यकर्ता के परिवार से मिले मनमोहन वैद्य

आरएसएस सह सरकार्यवाह मनमोहन वैद्य गुरुवार को पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। आपको बता दें कि 26 वर्षीय आरएसएस कार्यकर्ता का नाम संजीत था, जो मंडल बौद्धिक प्रमुख थे। उनकी हत्या के लिए पीएफआई को जिम्मेदार माना जा रहा है।

तिरुवनंतपुरम। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सह सरकार्यवाह मनमोहन वैद्य गुरुवार को केरल के पलक्कड़ जिले के एक कार्यकर्ता के घर पहुंचे। जिसकी सोमवार को बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद राजनीति गर्मा गयी। भाजपा ने आरएसएस कार्यकर्ता की दिनदहाड़े हुई हत्या के लिए पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) की राजनीतिक शाखा सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) के कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया था। 

इसे भी पढ़ें: सांप्रदायिकता को बढ़ावा नहीं देता हिंदुत्व, RSS और BJP ने इसे कर लिया हाईजैक: महबूबा मुफ्ती 

इसी बीच आरएसएस सह सरकार्यवाह मनमोहन वैद्य गुरुवार को पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे। आपको बता दें कि 26 वर्षीय आरएसएस कार्यकर्ता का नाम संजीत था, जो मंडल बौद्धिक प्रमुख थे। उनकी हत्या के लिए पीएफआई को जिम्मेदार माना जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र: वरिष्ठ पत्रकार घर में फांसी से लटके पाए गए, पुलिस को आत्महत्या का संदेह 

गौरतलब है कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने मंगलवार को राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान से मुलाकात की और इस संबंध में एक ज्ञापन दिया था। सुरेंद्रन ने कहा था कि प्रदेश में कानून के शासन को बनाए रखने और आम आदमी के जीवन एवं संपत्ति की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए राज्यपाल का हस्तक्षेप अपरिहार्य है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।