वोट नहीं डाल पाए मुनव्वर राना, CM योगी के बयान पर कहा- गर्मी स्टोर कर रहा हूं

वोट नहीं डाल पाए मुनव्वर राना, CM योगी के बयान पर कहा- गर्मी स्टोर कर रहा हूं

मुनव्वर राना ने वोट नहीं डाल पाने का दर्द बयां किया। उन्होंने कहा कि मैं हाथ उठा लूं तो हुकूमत गिर जाए, जाहिर सी बात है कि जब हमारा वोट ही नहीं है तो हम कुछ कहने के लायक भी तो नहीं हैं।

उत्तर प्रदेश के 9 जिलों की 59 विधानसभा सीटों पर मतदान चल रहा है। लेकिन उत्तर प्रदेश की सियासत में एक शख्स ऐसे भी हैं जो अपना डोल तो डालना चाहते हैं लेकिन उनका नाम ही वोटर लिस्ट से नदारद है। ये वाक्या किसी और के साथ नहीं बल्कि योगी सरकार के खिलाफ मुखर रहने वाले मशहूर शायर मुनव्वर राना के साथ हुआ है। लखनऊ में मुनव्वर राणा का नाम वोटर लिस्ट से गायब है। 

सत्ताधारियों का शुक्रिया अदा करता हूं

सामचार चैनल एबीपी न्यूज के साथ बातचीत में मुनव्वर राना ने वोट नहीं डाल पाने का दर्द बयां किया। उन्होंने कहा कि मैं हाथ उठा लूं तो हुकूमत गिर जाए, जाहिर सी बात है कि जब हमारा वोट ही नहीं है तो हम कुछ कहने के लायक भी तो नहीं हैं। राना ने कहा कि हम शहरीयत के खाने से निकाले गए, फिर मुल्क के खाने से निकाले जाएंगे। फिर दुनिया के खाने से निकाल दिए जाएंगे। मेरे खिलाफ सियासी रचनाकार रचनाएं लिखते-गढ़ते रहे हैं। उसी का एक हिस्सा ये भी है। राना ने कहा कि मैं सत्ताधारियों का शुक्रिया अदा करता हूं। 

गर्मी स्टोर कर रहा हूं 

साजिश के तहत उनका नाम वोटर लिस्ट से काटे जाने की बात पर मुनव्वर राना ने कहा कि ये इतने ढीठ हैं कि मेरे कहने से इन पर कोई असर नहीं होने वाला है। ये तो जबतक हार का मुंह नहीं देखेंगे तब तक नहीं सुधरेंगे। मेरी आलोचना से इन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता है। जहां योगी जी दहाड़ रहे हो वहां हमारी कविता की कोई हैसियत नहीं है। एक जिंदगी और वोट की कोई हैसियत नहीं है। इसके साथ ही समाचार चैनल से बातचीत में मुनव्वर राना ने कहा, "योगी जी ने कहा है कि गर्मी निकाल दूंगा, इसलिए मैं गर्मी स्टोर कर रहा हूं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।