बिहार विधानसभा चुनाव में राजग 200 से ज्यादा सीटें जीतेगा: नीतीश कुमार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 20, 2019   16:41
बिहार विधानसभा चुनाव में राजग 200 से ज्यादा सीटें जीतेगा: नीतीश कुमार

कुमार ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि वह उनके खिलाफ की जाने वाली ‘निंदात्मक’ टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देने से बचें। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘ मैं अपने पार्टी प्रवक्ता को सलाह दूंगा कि वह इसमें न पड़ें।’’ कुमार ने कहा , ‘‘ 2010 का विधानसभा चुनाव याद करने की कोशिश करें।

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अगले साल राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में राजग की बड़ी जीत का दावा करते हुए शुक्रवार को कहा कि जो लोग जदयू और उसकी गठबंधन सहयोगी भाजपा के बीच दरार पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं, उनका बुरा हाल होने वाला है।  जदयू की एक राज्य परिषद बैठक को संबोधित कर रहे नीतीश ने अपने विरोधियों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि जिन लोगों में ‘राजनीतिक सूझबूझ की कमी’ है वह उन पर निजी हमले करके प्रचार पाने की कोशिश करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘ उनमें से कुछ लोगों ने बेशर्मी से यह स्वीकार किया है कि उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि यह उनकी यूएसपी (खासियत) है।’’

कुमार ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि वह उनके खिलाफ की जाने वाली ‘निंदात्मक’ टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देने से बचें।  मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘ मैं अपने पार्टी प्रवक्ता को सलाह दूंगा कि वह इसमें न पड़ें।’’ कुमार ने कहा , ‘‘ 2010 का विधानसभा चुनाव याद करने की कोशिश करें। आशंका जताई गई थी कि हमें बहुमत नहीं मिलेगा लेकिन हम 243 सीटों में से 206 सीट पर जीत गए थे। आश्वस्त रहें कि हमें अगले साल 200 से ज्यादा सीटें मिलेंगी।’’ उन्होंने कहा कि जदयू और भाजपा के बीच सबकुछ ठीक है। उन्होंने कहा, ‘‘ ऐसे बहुत लोग हैं जो यह सोचते हैं कि हमारे गठबंधन में घचपच (कुछ गड़बड़ी) है। ऐसा नहीं हैं। और जो गड़बड़ी करने की कोशिश कर रहे हैं उनका बुरा हाल होने वाला है।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।