दिल्ली में नीतीश करेंगे NDA का प्रचार, PK कहेंगे केजरीवाल फिर एक बार

दिल्ली में नीतीश करेंगे NDA का प्रचार, PK कहेंगे केजरीवाल फिर एक बार

एक सवाल सबके जेहन में अब यह आ रहा है एक तरफ जहां बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार एनडीए के पक्ष में प्रचार करेंगे। वहीं, जनता दल यू के उपाध्यक्ष और आईपैक के फाउंडर प्रशांत किशोर आम आदमी पार्टी के लिए चुनावी रणनीति बनाएंगे।

दिल्ली में चुनावी दंगल के बीच भाजपा ने अपने बिहार के सहयोगियों को भी 3 सीटें देने का फैसला किया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि कि हम एक सीट लोक जनशक्ति पार्टी को जबकि दो सीट जनता दल यूनाइटेड को देने जा रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि लोक जनशक्ति पार्टी सीलमपुर से चुनाव लड़ेगी जबकि जनता दल यू के खाते में संगम विहार और बुराड़ी की सीटें जाएंगी। 

इस बीच एक सवाल सबके जेहन में अब यह आ रहा है एक तरफ जहां बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार एनडीए के पक्ष में प्रचार करेंगे। वहीं, जनता दल यू के उपाध्यक्ष और आईपैक के फाउंडर प्रशांत किशोर आम आदमी पार्टी के लिए चुनावी रणनीति बनाएंगे। दिल्ली में AAP और भाजपा की नेतृत्व वाली NDA के बीच सीधी टक्कर है। नीतीश कुमार पहले ही बदरपुर में अपनी पार्टी के लिए एक सभा कर चुके हैं। हालांकि चुनाव की तारीखों की घोषणा नहीं हुई थी। प्रशांत किशोर के लिए भी यह बड़ी ही असमंजस वाली स्थिति होगी कि वह अपनी पार्टी और अपनी पार्टी की गठबंधन को हराने के लिए AAP के लिए रणनीति बनाएंगे। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा के विजेंद्र गुप्ता ने दाखिल किया नामांकन

प्रशांत किशोर फिलहाल ममता बनर्जी के लिए भी बंगाल में रणनीति बना रहे हैं। बंगाल में भी भाजपा और ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी आमने-सामने हैय़ इसके अलावा जब नीतीश कुमार एनडीए के समर्थन में प्रचार करने उतरेंगे तो यह भी देखना दिलचस्प होगा कि वह एनआरसी और सीए पर क्या कहते हैं क्योंकि सीएए और एनआरसी पर उनकी पार्टी में फूट साफ तौर पर दिखाई दे रही है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।