फ्रांस में जागकर प्रदर्शन करो, भारत की धरती पर करने से कुछ नहीं होगा- रामेश्वर शर्मा

Rameshwar Sharma
दिनेश शुक्ल । Oct 30, 2020 6:31PM
रामेश्वर शर्मा ने कहा कि प्रदर्शन करना ही है तो फ्रांस में जाकर करना चाहिए मध्य प्रदेश में करने से क्या होगा, फ्रांस में मुस्लामन परेशान है मध्य प्रदेश में थोडे ही है। जो इस तरह की शक्तियों का प्रदर्शन कर रहे है इसी का नाम तो कट्टरबाद है। उन्होंने आयोजकों पर निशाना साधते हुए कहा कि तुम जो हिन्दू बहिन-बेटियों के साथ हो रहा है उस पर प्रदर्शन क्यों नहीं करते, लव जिहाद पर बात क्यों नहीं करते।

भोपाल। गुरूवार को भोपाल के इकबाल मैदान में फ्रांस के राष्ट्रपति के किलाफ हुए प्रदर्शन को लेकर मध्य प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर और भोपाल से भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा है कि जो इस तरह की शक्तियों का प्रदर्शन कर रहे है इसी का नाम तो कट्टरबाद है। रामेश्वर शर्मा ने कहा कि भारत की धरती पर प्रदर्शन करने से कुछ नहीं होगा। प्रदर्शन करना है तो फ्रांस जाईए चीन जाईए वहां के मैदानों में उतर जाईए। 

इसे भी पढ़ें: मध्यप्रदेश को नंबर वन राज्य बनाने का सपना पूरा करेगी भाजपा : उमा भारती

रामेश्वर शर्मा ने कहा कि प्रदर्शन करना ही है तो फ्रांस में जाकर करना चाहिए मध्य प्रदेश में करने से क्या होगा, फ्रांस में मुस्लामन परेशान है मध्य प्रदेश में थोडे ही है। जो इस तरह की शक्तियों का प्रदर्शन कर रहे है इसी का नाम तो कट्टरबाद है। उन्होंने आयोजकों पर निशाना साधते हुए कहा कि तुम जो हिन्दू बहिन-बेटियों के साथ हो रहा है उस पर प्रदर्शन क्यों नहीं करते, लव जिहाद पर बात क्यों नहीं करते। फ्रांस में जो हो रहा है उस पर भोपाल में प्रदर्शन करके आरिफ मसूद क्या उखाड़ लेगें। करना है तो वहाँ करो, चीन में करो उतर जाईए। यहाँ के जन वायु मंडल को दूषित करना, उनको आक्रोशित करना और उन पर मानसिक रूप से दबाब बनाना कि इस्लाम के नाम पर मुस्लमान एक है, यह गलत है। जो कुछ करना है वह फ्रांस में करो। रामेश्वर शर्मा ने भोपाल मध्य से कांग्रेसी विधायक आरिफ मसूद से कहा कि चाहो तो आपने पाकिस्तानी मित्र को ले जाओ। भारत की धरती पर फ्रांस के प्रदर्शन करने से क्या कर लोगों इससे क्या फर्क पड़ने वाला है। 

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस नेताओं के अहंकार का जनता मुंहतोड़ जवाब देगी: शिवराज सिंह चौहान

वही पुलवामा हमले पर कांग्रेसी नेताओं द्वारा सबूत मांगे जाने पर भाजपा नेता रामेश्वर शर्मा ने कांग्रेस पर एक बार फिर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस अब नेताजी सुभाषचंद्र बोस और भगत सिंह वाली कांग्रेस नहीं रह गई है। इसमें तो वह लोग है, जिसे देश का नक्शा भी नहीं मालूम है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह जैसे लोग जो रहते तो मध्य प्रदेश में है, लेकिन गाते इस्लामाबाद की है। ऐसे लोग जब तक कांग्रेस में रहेंगे न तो वह भारत के सैनिकों का सम्मान कर सकेंगे, न भारत की बहादुरी का सम्मान कर सकेंगे, न भारत के तिरंगें का मान-सम्मान जिन्दा रख सकेंगे। 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश उप चुनावों के बीच अवैध शराब, ड्रग और करोड़ों की नगदी जब्त

रामेश्वर शर्मा ने कहा कि पुलवामा में हुए हमले को पाकिस्तान ने तो पहले ही स्वीकार कर लिया था, लेकिन हिन्दुस्तान में पप्पू टाईप के नेताओं ने स्वीकार नहीं किया था। लेकिन भारत के सैनिक को किसी को बताने की जरूरत नहीं है। वो मादरे वतन के लिए माँ के दूध का कर्ज निभाने के लिए यह कहकर जाता है कि माँ आपने जो तिलक लगाया वह शौर्य का है, सम्मान का है, तेरे दूध की शान का है, मैं जिस काम के लिए जा रहा हूँ तेरे से ये वादा तो करता हूँ कि तेरी गोदी में तो यह लाल आएगा लेकिन पीठ नहीं दिखाएगा। भारत को प्रमाण देने की जरूरत नहीं है, भारत में मोदी है। हिन्दुस्तानियों को प्रमाण देने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि एक दिन इस्लामाबाद में तिरंगा फैराएगें सारे कांग्रेसियों को प्रमाण मिल जाएगें। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़