मोदी ने बंगाल CM पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप तो ममता ने PM को बताया मिस्टर मैड्डी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Feb 9 2019 12:41PM
मोदी ने बंगाल CM पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप तो ममता ने PM को बताया मिस्टर मैड्डी
Image Source: Google

तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने जवाबी हमला करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘भ्रष्टाचार का गुरू’ और देश के लिए एक ‘शर्म’ बताया।

चूड़ाभंडार। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए उन पर चिटफंड घोटालों में शामिल लोगों को बचाने का प्रयास करने का आरोप लगाया। मोदी ने जलपाईगुड़ी जिले में भाजपा की एक रैली को संबोधित करते हुए चेताया कि न तो घोटालों के दोषियों को छोड़ा जायेगा और न ही उन्हें बचाने वालों को। तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने जवाबी हमला करते हुए मोदी को ‘भ्रष्टाचार का गुरू’ और देश के लिए एक ‘शर्म’ बताया।

भाजपा को जिताए

राज्य में एक सप्ताह में अपनी तीसरी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस को पिछली कम्युनिस्ट सरकार से ‘हिंसा और अत्याचार’ की विरासत मिली थी और पश्चिम बंगाल की धरती को ‘‘बदनाम’’ किया गया। लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी दलों के भाजपा-विरोधी गठबंधन को एक साथ जोड़ने के प्रयासों में सबसे आगे रहने वाली ममता पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि प्रस्तावित ‘महागठबंधन’ उन लोगों की ‘महा मिलावट’ है जिनकी देश के लिए कोई विचारधारा या दृष्टकोण नहीं है।

इसे भी पढ़ें: झांसी की रानी नहीं राक्षसी हैं ममता, बंगाल को कर दिया तबाह

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हमारे देश के इतिहास में ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था, जब हमने एक मुख्यमंत्री को भ्रष्ट को बचाने के लिए धरने पर बैठते हुए देखा हो। गरीब लोग जानना चाहते हैं कि वह उस व्यक्ति को बचाने के लिए वह धरने पर क्यों बैठी जो चिटफंड घोटाले की जांच में लापरवाही बरतने का आरोपी है।’ उन्होंने कहा कि यह चौकीदार किसी को भी नहीं छोड़ेंगा। चाहे वे अपराधी हो या उनके रक्षक, किसी को भी नहीं छोड़ा जायेगा।



ममता ने तेजी से प्रतिक्रिया देते हुए ‘मिस्टर मैड्डी’ के रूप में उनका जिक्र किया। मुख्यमंत्री ने कोलकाता में पत्रकारों से कहा, ‘इस व्यक्ति (प्रधानमंत्री) के बारे में हम जितना कम बोले, उतना ही अच्छा है। मिस्टर मैड्डी भ्रष्टाचार के गुरू हैं। वह अहंकार के गुरू और देश के लिए शर्म हैं। उनके लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं। उनका पैमाना इतना निम्न है कि हमने कभी ऐसे किसी व्यक्ति के प्रधानमंत्री के तौर पर उम्मीद नहीं की थी। हमारे मन में इस पद के लिए सम्मान है न कि इस व्यक्ति के प्रति।’

इसे भी पढ़ें: लगता है पश्चिम बंगाल में कानून का नहीं ममता बनर्जी का शासन चलता है

उन्होंने मोदी पर कथित राफेल घोटाले में मिलीभगत का आरोप लगाया। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘वह (मोदी) राफेल सौदे में सबसे भ्रष्ट व्यक्ति है। वह नोटबंदी के मास्टर है। शैतान मंत्र जपता है। वह कभी ‘चायवाला’ नहीं रहे और वह चाय बनाना भी नहीं जानते हैं। चायवाला से वह अब राफेलवाला बन गये हैं। वह कई झूठ बोलते हैं।’ मोदी ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस सरकार ने अपनी पूर्ववर्ती वाम मोर्चा सरकार के खूनखराबे की संस्कृति को अपनाया है। उन्होंने कहा, ‘मां, माटी, मानुष के नाम पर बंगाल की सत्ता पाने वाले अपनी पूर्ववर्ती वाममोर्चा सरकार के खूनखराबे की संस्कृति का पालन कर रहे हैं।’

बंगाल की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को याद करते हुए, मोदी ने कहा, ‘आज, कानून और व्यवस्था जर्जर स्थिति में है, उद्योग और व्यवसाय तबाह हो गये हैं और युवा नौकरियों के लिए अन्य राज्यों में पलायन कर रहे हैं। इस सरकार ने बंगाल की 'माटी' को बदनाम किया है और लोगों को ‘मजबूर’ कर दिया है।’ उन्होंने कहा कि राज्य को ‘दीदी’ की जगह ‘‘उगाही सिंडिकेट’’ चला रहा है। ममता को प्यार से लोग ‘दीदी’ कहते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हम अन्य देशों से भ्रष्ट लोगों को वापस ला रहे है और वे यहां भ्रष्टाचारियों को बचाने पर तुले हुए हैं। हर भ्रष्ट व्यक्ति मोदी से डर रहा है।’

इसे भी पढ़ें: राज्य सरकार CBI को जांच के लिए प्रदेश में प्रवेश करने से रोक नहीं सकती



प्रस्तावित विपक्षी गठबंधन के संभावित घटकों के बीच विरोधाभासों पर प्रकाश डालते हुए, मोदी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में कांग्रेस के नेताओं ने तृणमूल कांग्रेस सरकार पर अलोकतांत्रिक होने का आरोप लगाया औरदिल्ली में, रॉबर्ट वाड्रा के रिश्तेदार ममता बनर्जी को समर्थन दे रहे है। प्रधानमंत्री ने कांग्रेस की महिला इकाई की प्रमुख सुष्मिता देव के उस बयान को लेकर पार्टी पर निशाना साधा जिसमें उन्होंने कहा था कि यदि कांग्रेस सत्ता में आई तो तीन तलाक कानून को खत्म कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस का तुष्टिकरण का एजेंडा उजागर हो गया है। जैसे उसने शाह बानो मामले में (जब राजीव गांधी प्रधानमंती थे) गलती की थी, वह अब एक और गलती कर रही है।’

उन्होंने कहा, ‘उनके पास सर्वोच्च न्यायालय के लिए कोई सम्मान नहीं है जिसने इस प्रथा को गैर कानूनी घोषित कर दिया है। वे चाहते हैं कि मुस्लिम महिलाएं बर्बाद हो जाएं। उनका कहना है कि वे कानून को खत्म कर देंगे। मैं मुस्लिम महिलाओं को विश्वास दिलाता हूं कि किसी को भी कानून का उल्लंघन करने की अनुमति नहीं दी जायेगी।’ अगले चुनावों में तृणमूल सरकार के पतन की भविष्यवाणी करते हुए मोदी ने कहा कि पड़ोसी राज्य त्रिपुरा में भाजपा का प्रदर्शन पश्चिम बंगाल में दोहराया जायेगा।

इसे भी पढ़ें: MP में लोगों का कांग्रेस से हुआ मोहभंग, हम लोकसभा की जीतेंगे 25 सीटें

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘पहले किसी में भी तृणमूल कांग्रेस के गुंडों का सामना करने की हिम्मत नहीं थी। हम उनसे बंगाल को छुटकारा दिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। भाजपा कार्यकर्ता किसी से नहीं डरते। यादि ऐसा होता तो भाजपा को मजबूती नहीं मिलती और अपनी सरकार बनाने के लिए हम केवल दो सांसदों से इतने आगे नहीं बढ़ पाते।’



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video