मोदी सरकार के 7 साल पूरे होने पर जनता खुद को ठगा महसूस कर रही है- कमलनाथ

मोदी सरकार के 7 साल पूरे होने पर जनता खुद को ठगा महसूस कर रही है- कमलनाथ
प्रतिरूप फोटो

कमलनाथ ने कहा कि वर्ष 2014 में झूठे वादे, झूठे नारे, झूठे जुमले के साथ सत्ता में आई खुद को 56 इंच बताने वाली मोदी सरकार के इन 7 वर्षों के बाद आमजन स्वयं को ठगा हुआ, बरगलाया सा महसूस कर रहा है? देशवासियों पर नोट बंदी थोपी, देशवासी अपने ही पैसे के लिए परेशान होते रहे, व्यापार-व्यवसाय तबाह हो गये

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने केंद्र की मोदी सरकार के 7 वर्ष पूरे होने पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि 7 वर्षों के बाद आमजनता खुद को ठगा महसूस कर रही है और देश की वर्तमान हालत का दोषी मोदी सरकार को मान रही हैं और यह सच्चाई भी है।

 

इसे भी पढ़ें: तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सांरग ने लिखा डॉ.हर्षवर्धन को पत्र

कमलनाथ ने कहा कि जनता को इस सरकार को चुनने का पछतावा है, इसलिये देश में 7 वर्ष का कही जश्न-उत्सव नहीं? देशवासी इस सच्चाई को जान चुके है कि मोदी सरकार की प्राथमिकता में आमजन नहीं बल्कि चुनाव व जश्न है? मोदी सरकार को भी यह अच्छे से पता है कि अब जनता को और बरगलाया नहीं जा सकता है, इसलिए इस वर्ष जश्न व उत्सव नही? नहीं तो हमने कोरोना की पहली लहर में 6 वर्ष का जश्न-उत्सव देखा है? उन्होंने कहा कि पूरे देश ने देखा है कि कोरोना की इस दूसरी लहर में देश की जनता को भगवान भरोसे छोड़, पूरी सरकार पांच राज्यों के चुनाव में लगी रही, दूसरी लहर आने की सूचना होने के बाद भी सरकार ने कोई तैयारी नही की? उसका परिणाम देशवासियों ने भुगता है। कोरोना के मेनेजमेंट को छोड़कर मोदी सरकार अपने ईमेज मैनेजमेंट और ब्रांडिग में लगी रही ।

 

इसे भी पढ़ें: भोपाल में युवक को सुअरों ने बनाया निवाला, गुरुवार शाम से मृतक था लापता

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाते हुए कहा कि देश में लाखों लोगों की जान इलाज-बेड-ऑक्सीजन-वेंटिलेटर-जीवन रक्षक दवाइयों व इंजेक्शन के अभाव के कारण गयी ? मोदी सरकार ने विश्व गुरु बनने के चक्कर में 84 देशों को 6 करोड़ 60 लाख वैक्सीन निर्यात कर दी और जिसका परिणाम है कि आज हमारे देशवासी ही वैक्सिंग के लिए दर-दर भटक रहे हैं और ऐसा लग रहा है कि देश में वैक्सिनेशन का कार्यक्रम पंचवर्षीय योजना के तहत पूरा होगा? शायद देशवासियों को समय पर वैक्सीन लग जाती तो आज देश में लाखो जाने बचाई जा सकती थी?

 

इसे भी पढ़ें: कमलनाथ का दावा 80 प्रतिशत मौतें कोविड से हुई, कोरोना से हुई मौतों पर शिवराज सरकार को घेरा

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि वर्ष 2014 में झूठे वादे, झूठे नारे, झूठे जुमले के साथ सत्ता में आई खुद को 56 इंच बताने वाली मोदी सरकार के इन 7 वर्षों के बाद आमजन स्वयं को ठगा हुआ, बरगलाया सा महसूस कर रहा है? देशवासियों पर नोट बंदी थोपी, देशवासी अपने ही पैसे के लिए परेशान होते रहे, व्यापार-व्यवसाय तबाह हो गये और जो कारण इस नोट बंदी के लिए बताए गए थे, चाहे काला धन, चाहे हवाला का व्यापार, चाहे डिजिटल पेमेंट, चाहे आतंकी घटनाएँ वह सब झूठे साबित हुए ? कमलनाथ ने कहा कि कुल मिलाकर मोदी सरकार के 7 वर्ष असफलताओं से भरे पड़े हैं। इन 7 वर्षों में  मोदी सरकार के केवल इमेज मैनेजमेंट, ब्रांड मैनेजमेंट को देशवासियों ने देखा है? देश की जनता तो आज ख़ुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है? मोदी सरकार के 7 वर्ष "देश को बदहाल" बनाने के लिये याद किये जाएँगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।