कमलनाथ का दावा 80 प्रतिशत मौतें कोविड से हुई, कोरोना से हुई मौतों पर शिवराज सरकार को घेरा

कमलनाथ का दावा 80 प्रतिशत मौतें कोविड से हुई, कोरोना से हुई मौतों पर शिवराज सरकार को घेरा
प्रतिरूप फोटो

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने एफिडेविट अभियान भी शुरू किया। उन्होंने कहा कि जिनके घरों में कोविड से मौतें हुई वो एफिडेविट भरकर दें, मैं एफिडेविट का ड्राफ्ट दे रहा हूं। उन्होंने कहा कि एफिडेविट मिलने पर मृतकों को 5 लाख मुआवजा दे सरकार

सतना। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ शुक्रवार को मैहर पहुंचे। यहां उन्होंने कोरोना प्रोटोकॉल के कारण मैहर मंदिर के गेट पर ही पुरोहितों की मौजूदगी में पूजा अर्चना की। सतना में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कमलनाथ ने राज्य और केंद्र की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। कमलनाथ ने कोविड से हुई मौतों पर एक बार फिर शिवराज सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में डेढ़ लाख शव श्मशान पहुंचे हैं। इनमें से 80 प्रतिशत शवों का अंतिम संस्कार कोविड प्रोटोकॉल से किया गया है। जनता को दिखाई देने वाले सरकारी आंकड़े झूठे हैं।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश का आगर मालवा जिला हुआ कोरोना मुक्त, मुख्यमंत्री ने दी बधाई

कमलनाथ ने कहा कि सरकार श्मशान घाटों और कब्रिस्तान के रजिस्टर जनता के सामने रखे, जनता सच्चाई का साथ दे, मैं सच्चाई दिखाता हूं तो एफआईआर करते हैं, मैं सवाल पूछता हूं तो देशद्रोही बोलते हैं, केंद्र सरकार ने खुद सुप्रीम कोर्ट में वायरस को इंडियन म्यूटेंट कोविड बताया था। कमलनाथ ने सीएम शिवराज पर तंज कसते हुए कहा कि उन्हें मुंबई जाना चाहिए। वे एक्टिंग अच्छी कर लेते हैं। इससे मध्य प्रदेश का नाम रोशन होगा। इसके बाद उन्होंने केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी जी ने भारत को बदनाम कर दिया है, इसलिए भारतीयों पर विश्व ने आने-जाने पर रोक लगा दी गई है। विदेशों में भारतीयों की ऐसी छवि बन गई है कि टैक्सी में कोई बैठने को तैयार नहीं है।

 

इसे भी पढ़ें: नाबालिग युवती ने पुलिस आरक्षक पर लगाया शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का आरोप, मामला दर्ज

इसके साथ ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने एफिडेविट अभियान भी शुरू किया। उन्होंने कहा कि जिनके घरों में कोविड से मौतें हुई वो एफिडेविट भरकर दें, मैं एफिडेविट का ड्राफ्ट दे रहा हूं। उन्होंने कहा कि एफिडेविट मिलने पर मृतकों को 5 लाख मुआवजा दे सरकार, एफिडेविट गलत होने पर सरकार कार्रवाई को स्वतंत्र है। उन्होंने कहा कि कोई भी नागरिक मेरे अभियान से जुड़ सकता है, मैं केवल सच्चाई सामने लाना चाहता हूं। इसके अलावा कमलनाथ ने कहा कि नकली रेमडेसिविर कांड की उच्चस्तरीय जांच हो। सरकार बताए प्रदेश के कितने अस्पतालों में कैसे नकली इंजेक्शन पहुंचे? नकली इंजेक्शन से कितने मरीजों की जान गई? सतना के रामचन्द अग्रवाल को भी नकली रेमडेसिविर लगने की शिकायत मिली। 

 

इसे भी पढ़ें: समय पर ऋण चुकाने वाले पथ-विक्रेताओं को मिलेगा 20 हजार का लोन

कमलनाथ ने प्रधानमंत्री मोदी से भी हिसाब मांगा। उन्होंने कहा कि 30 मई को सरकार के 7 साल होने पर देश को पीएम मोदी जवाब दें, पीएम केयर फंड भी नारा बनकर रह गया। पीएम केयर फंड से आये खराब वेन्टीलेटर्स ने कितनी जान लीं? वेन्टीलेटर्स खरीदी में कितना कमीशन लिया गया। कमलनाथ ने सतना प्रवास के दौरान बाबा अलाउद्दीन खां मैहर कला अकादमी के सदस्य व नलतरंग वादक प्रभूदयाल द्विवेदी के निधन पर घर पहुंचकर शोक  व्यक्त किया। इसके बाद कांग्रेस पदाधिकारी रहे मनीष चतुर्वेदी के घर पहुंचकर शोक जताया। वे करीब 1 बजे जबलपुर रवाना हो गए। 






नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।