तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सांरग ने लिखा डॉ.हर्षवर्धन को पत्र

तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सांरग ने लिखा डॉ.हर्षवर्धन को पत्र
प्रतिरूप फोटो

मंत्री विश्वास सारंग ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि कुछ विशेषज्ञों ने कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका व्यक्त की है, जिसमें बच्चों के सबसे ज्यादा प्रभावित होने की बात भी की गई है।

भोपाल। मध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए भोपाल एम्स में 500 आईसीयू बेड सहित 100 बेड के कोविड अस्पताल की आवश्यक अधोसंरचना तैयार करने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को पत्र लिखा है।

 

इसे भी पढ़ें: भोपाल में युवक को सुअरों ने बनाया निवाला, गुरुवार शाम से मृतक था लापता

सारंग ने लिखा है कि मध्य प्रदेश सहित पूरे देश में कोरोना की दूसरी लहर का सामना सफलतापूर्वक किया गया है। ऐसे संकट के समय में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) भोपाल ने 500 बिस्तर का कोविड अस्पताल संचालित कर प्रदेश के चिकित्सकीय संसाधनों की उपलब्धता में वृद्धि करने में सराहनीय योगदान दिया है।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश का आगर मालवा जिला हुआ कोरोना मुक्त, मुख्यमंत्री ने दी बधाई

मंत्री विश्वास सारंग ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि कुछ विशेषज्ञों ने कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका व्यक्त की है, जिसमें बच्चों के सबसे ज्यादा प्रभावित होने की बात भी की गई है। इस आशंका को देखते हुए मध्य प्रदेश में तीसरी लहर की रोकथाम, नियंत्रण और उपचार को लेकर व्यापक स्तर पर अभी से तैयारियाँ शुरू कर दी गयी हैं। इसी कड़ी में भोपाल एम्स में भी 500 आईसीयू बेड सहित 100  बेड का कोविड अस्पताल आवश्यक अधोसंरचना सहित तैयार करने के लिए अनुरोध किया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।