UP Election 2022 । अमेठी पहुंचे राहुल और प्रियंका, मोदी सरकार पर जमकर साधा निशाना

UP Election 2022 । अमेठी पहुंचे राहुल और प्रियंका, मोदी सरकार पर जमकर साधा निशाना

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि जब भाजपा कहती है कि हमारे 70 वर्षों में कुछ नहीं हुआ, तो उनका वास्तव में मतलब था कि इन 70 वर्षों में अंबानी, अदानी के लिए कुछ नहीं हुआ... याद रखें, भारत के सबसे बड़े अरबपति रोजगार नहीं देते।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इन सबके बीच आज राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र रहे अमेठी के जगदीशपुर पहुंचे थे। अमेठी में राहुल गांधी ने किसानों के साथ-साथ रोजगार का मुद्दा उठाया और नरेंद्र मोदी के सरकार पर जमकर निशाना साधा। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने कहा कि पूरा उत्तर प्रदेश जानता है कि भारत के प्रधानमंत्री आकर वोट लेने के लिए कुछ भी बोल जाएंगे। पूरा देश जानता है कि नरेंद्र मोदी ने किसानों की आमदनी दोगुनी करने का वादा किया था और फिर तीन क़ाले क़ानून लागू किए। उन्होंने कहा कि इन क़ानूनों का लक्ष्य था, कि जो आज किसानों को मिलता हैं वह उनसे छीनकर भारत के सबसे बड़े 4-5 अरबपतियों को दे दिया जाएं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि जब भाजपा कहती है कि हमारे 70 वर्षों में कुछ नहीं हुआ, तो उनका वास्तव में मतलब था कि इन 70 वर्षों में अंबानी, अदानी के लिए कुछ नहीं हुआ... याद रखें, भारत के सबसे बड़े अरबपति रोजगार नहीं देते। छोटे दुकानदार, व्यापारी और किसान देते हैं। उन्होंने कहा कि भारत के रोजगार क्षेत्र की रीढ़ को पीएम नरेंद्र मोदी और उनके दोस्तों ने तोड़ा है। आप देखेंगे कि आने वाले समय में इस देश के युवाओं को रोजगार नहीं मिलेगा, आप जितना चाहें, उन्हें पढ़ाएं। COVID के दौरान किसी ने मेरी नहीं सुनी, लेकिन आपने गंगा में शव देखे। 

इसे भी पढ़ें: चौथे चरण में दिखी बसपा-कांग्रेस की ताकत, बिगड़ सकता है भाजपा-सपा का ‘खेला'

वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि इन 5 सालों में कितनों को रोज़गार मिला है? इन्होंने जो जानबूझकर 12 लाख सरकारी पदों को खाली रखा है उसे हम सबसे पहले भरेंगे। इसकी हमने पूरी लिस्ट बनाई हुई है। इसके अलावा हम 8 लाख नए रोज़गार देंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें आवारा पशुओं की समस्या के बारे में नहीं पता, 5 साल से क्या कर रहे थे? उन्हें यूक्रेन में युद्ध की जानकारी है, उन्हें COVID के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति की खांसी के बारे में पता था, लेकिन उन्हें किसानों की इस समस्या का पता नहीं था? लोगों से अपील करते हुए प्रियंका ने कहा कि आप (सार्वजनिक) अपनी परिस्थितियों के लिए जिम्मेदार हैं। आप भटक जाते हैं और आंखें बंद करके वोट करते हैं। आपका वोट एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी है, बुद्धिमानी से चुनें क्योंकि आपको अगले 5 वर्षों तक पछताना पड़ सकता है। यह आपके विकास का समय है। 

प्रियंका गांधी





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।