राजनाथ ने फिर बदली सीट ! इस बार पहुंचे नोएडा, महेश शर्मा जाएंगे अलवर

By अनुराग गुप्ता | Publish Date: Mar 13 2019 11:42AM
राजनाथ ने फिर बदली सीट ! इस बार पहुंचे नोएडा, महेश शर्मा जाएंगे अलवर
Image Source: Google

इस बार राजनाथ सिंह नोएडा की गौतम बुद्ध नगर सीट से अपना पर्चा दाखिल कर सकते हैं। वर्तमान में इस सीट से महेश शर्मा भाजपा के मौजूदा सांसद हैं।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनावों की तारीखें सामने आने के बाद अब सभी राजनीतिक दल अपने-अपने कैंडिडेट्स के नाम तय करने में लगे हुए हैं। ऐसे में अब एक नाम सामने आ रहा है भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह का। बता दें कि इस बार राजनाथ सिंह नोएडा की गौतम बुद्ध नगर सीट से अपना पर्चा दाखिल कर सकते हैं। वर्तमान में इस सीट से महेश शर्मा भाजपा के मौजूदा सांसद हैं। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा राष्ट्र के सशक्तिकरण के लिए राजनीति का इस्तेमाल करती है: राजनाथ सिंह

सूत्रों की मानें तो बीजेपी एवं आरएसएस के द्वारा कराए गए सर्वेक्षण में सामने आया कि गौतम बुद्ध नगर संसदीय क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में महेश शर्मा से स्थानीय जनता खुश नहीं है। ऐसे में बीजेपी ने यहां से राजनाथ सिंह को टिकट देने पर विचार किया है। बता दें कि महेश शर्मा को अब पार्टी राजस्थान की अलवर सीट से टिकट देगी क्योंकि अलवर महेश शर्मा का गृह जिला है। 

आपको बता दें कि राजनाथ सिंह के बारे में कहा जाता है कि वह किसी सीट से दोबारा चुनाव नहीं लड़ते हैं। राजनाथ सिंह ने साल 2014 में लखनऊ से चुनाव लड़ा था तो साल 2009 में वह गाजियाबाद के सांसद थे। इससे पहले राजनाथ सिंह उत्तर प्रदेश के कल्याण सिंह सरकार में जब मंत्री थे तब वह मिर्जापुर के विधायक हुआ करते थे और मुख्यमंत्री रहते हुए वह हैदरगढ से विधानसभा के सदस्य थे। विशेषज्ञों का मानना है कि राजनाथ जिस भी सीट से एक बार चुनाव लड़ लेते है वह दूसरी बार वहां से अपना नामांकन दाखिल नहीं करते है। यही वजह रही होगी कि राजनाथ सिंह इस बार के लोकसभा चुनावों में गौतम बुद्ध नगर की सीट से पर्चा दाखिल करने वाले हैं। 

इसे भी पढ़ें: स्ट्राइक को लेकर राजनाथ का बड़ा खुलासा, सीमा पार जाकर सेना ने किए हैं 3 स्ट्राइक



नोएडा सीट पर एक नजर

ऊपरी तौर पर लगाए जा रहे अनुमानों के मुताबिक गौतम बुद्ध नगर संसदीय क्षेत्र में करीब 19 लाख मतदाता हैं, जिसमें से 12 लाख मतदाता ग्रामीण इलाके से ताल्लुक़ रखते हैं। जबकि महज 7 लाख शहरी मतदाता यहां पर शेष बचता है। ऐसे में बीजेपी महेश शर्मा को टिकट देकर इस सीट को गंवाना बिल्कुल भी नहीं चाहेगी। अगर जातीय समीकरण पर नजर डालें तो मुस्लिम, गुज्जर और जाटों ने साल 2017 में हुए विधानसभा चुनावों में यहां की पांचों सीट पर बीजेपी को जीत हासिल कराई थी। जीते हुए पांच विधायकों में राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह भी शामिल हैं। वहीं, उत्तर प्रदेश के आईटी हब के तौर पर भी नोएडा को देखा जाता है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video