भोपाल में हुआ पंचायतो का नए सिरे से परिसीमन, जिले में बढ़ी 35 पंचायतें

भोपाल में हुआ पंचायतो का नए सिरे से परिसीमन, जिले में बढ़ी 35 पंचायतें

फंदा ब्लॉक में पडरिया सांकल, डोब, पिपलियाबाज खां, छावनी पठार, पाटनिया, समसगढ़, महाबडिया, छापरी, बरखेड़ी हज्जाम, बीनापुर, बिनशनखेड़ी, मुबारकपुर, गुराडिया, झागरियाखुर्द, पिपलिया रानी, अरेड़ी, मेंडोरा, खुरचनी और शाहपुरा पंचायतों का गठन हुआ है।

भोपाल। मध्य प्रदेश में नए सिरे से पंचायतों का परिसीमन किया जा रहा है। भोपाल में भी ग्राम पंचायतों का परिसीमन हुआ है।भोपाल में 35 नई पंचायतों का गठन किया गया है। अब जिले में पंचायतों की संख्या 187 से बढ़कर 222 हो गई है।

दरअसल सबसे अधिक 19 नई पंचायतों का गठन फंदा ब्लॉक में है। जबकि 16 नई पंचायतों का गठन बेरासिया ब्लॉक में किया गया है। बताया जा रहा है कि फंदा में पहले 77 पंचायत थी 19 नई जुड़ने के बाद संख्या 96 पहुंच गई है।

इसे भी पढ़ें:भोपाल में शुरू हुई पहली म्यूजिक लाइब्रेरी, 20 से ज्यादा वाद्ययंत्र है मौजूद 

वहीं बैरसिया में 110 पंचायत थी जिसमें 16 नई पंचायतें शामिल हुई हैं जिसके बाद कुल संख्या 116 हो गई है। नई पंचायतों के गठन के बाद अब जिले में पंचायतों की संख्या 187 से बढ़कर 222 हो गई हैं।

आपको बता दें कि इससे पहले तत्कालीन कमलनाथ की कांग्रेस सरकार में 13 नई पंचायतों का गठन किया गया था लेकिन बाद में बीजेपी सरकार आने के बाद इसे रद्द कर दिया गया था। हालांकि फिर से पंचायतों का परिसीमन किया गया है।

इसे भी पढ़ें:ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिला मुख्यमंत्री बनने का आशीर्वाद, कांग्रेस ने किया कटाक्ष 

जानकारी के मुताबिक फंदा ब्लॉक में पडरिया सांकल, डोब, पिपलियाबाज खां, छावनी पठार, पाटनिया, समसगढ़, महाबडिया, छापरी, बरखेड़ी हज्जाम,  बीनापुर, बिनशनखेड़ी, मुबारकपुर, गुराडिया, झागरियाखुर्द, पिपलिया रानी, अरेड़ी, मेंडोरा, खुरचनी और शाहपुरा पंचायतों का गठन हुआ है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...